कागज मे बना लोहिया गांव, समस्याएं यथावत

0
291

village

बबुरी/चंदौली (ब्यूरो)- जनपद के चंदौली सदर विकास क्षेत्र के लोहिया समग्र गांव की कहानी कुछ अजब गजब है। वर्ष 2015 में इस गांव का चयन लोहिया समग्र गांव के रुप में हुआ तो लगा कि गांव की तस्वीर व तकदीर दोनो बदल जायेगी। लेकिन एक वर्ष बीत गये इस गांव की समस्याएं यथावत है। गांव के दलित बस्ती में जाने का रास्ता खराब हो चुका है। साफ सफाई नही होने से नालिंया जाम है, रास्तों पर पानी लगा हुआ है। इस बस्ती कई लोगो ने आरोप लगाया कि इस बस्ती के विकास के लिये कुछ भी नही किया गया है।

गांव के पूरब हिस्से में तालाब पर कब्जा बदस्तूर जारी है। यही नही कई लोगो ने तालाब के भीटे पर अवैध ढ़ग से कब्जा कर इंदिरा आवास बनवा डाले है। और तो और पूर्व प्रधान के कार्यकाल में इंदिरा आवास के लिये जिन ग्रामीणों को पैसा मिला था उनमें से कई ने आवास अभी तक नही बनवाये गए जो प्रशासन के लिये एक जांच का विषय है।

गौरतलब है कि दिघवट गांव के तालाब पर अवैध कब्जे को लेकर कई लोगो पर राजस्व विभाग ने मुकदमा कर रखा है, लेकिन अभी भी अवैध कब्जा यथावत जारी है। जहां इस गांव में साफ सफाई का सवाल है तो इस लोहिया गांव की गंदगी से पटी पड़ी है। जनपद में गंदे गांवो की यदि सूची बनायी जायेगी तो दिघवट गांव का नाम सर्वोपरि हो सकता है। ग्रामप्रधान  ने कहा कि वे विकास कार्यो से संतुष्ट नही है।

रिपोर्ट-रोहित वर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here