घर में लगी भीषण आग, सिलेंडर फटा, परिवार के कई लोग झुलसे

0
126

उधमसिंह नगर – सितारगंज उधमसिंह नगर मिट्टी से बने कच्चे घर में आग से घर में रखे तीन गैस सिलेंडर फट गए। इससे पूरा परिवार आग में झुलस गया। गृह स्वामी की मौके पर ही मौत हो गई। पत्नी व तीन बच्चे भी गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी का इलाज एसटीएच हल्द्वानी में चल रहा है, जहां उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई है।

बरूआ बाग पट्टी सिसौना सितारगंज में विश्वनाथ अपनी पत्नी व तीन बच्चों के साथ कच्चे मकान में रहता था। तड़के लगभग तीन बजे अचानक उसके घर में आग लग गई। उस वक्त घर में परिवार के सभी लोग सो रहे थे। घर में रखे एक बड़े व दो छोटे गैस सिलेंडरों की वजह से आग तेजी से फैली और इनके फटने से जोरदार धमाका हो गया। धमाके से आसपास के लोगों की नींद खुली।

पड़ोसी विश्वनाथ के घर की ओर भागे। आग बुझाने का प्रयास भी किया, लेकिन तब तक विश्वनाथ (43 वर्ष) की मौत हो चुकी थी। आसपास के लोगों ने किसी तरह उसकी पत्नी पूनम (38 वर्ष), पुत्र राहुल (15 वर्ष), बेटी रिप्पी (17 वर्ष) व सपना (12 वर्ष) को किसी तरह घर से बाहर निकाला और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। हालत गंभीर देखकर उन्हें हायर सेंटर एसटीएच हल्द्वानी के लिए रेफर कर दिया गया।

एसटीएच के एमएस एके पांडेय ने बताया कि पूनम, राहुल व रिप्पी करीब 90 प्रतिशत तक झुलसे हैं। सपना 80 प्रतिशत जली है। आग लगने की सूचना मिलते ही एसडीएम विनोद कुमार भी मौके पर पहुंचे। अग्निकांड में मोटर साइकिल, टेलीविजन, फ्रिज व सारा घरेलू सामान जल गया।

रिपोर्ट- शादाब

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY