चॉकलेट का अधिक सेवन ह्रदयरोग को निमंत्रण देना हैं

0
430

chocolate girl

क्या आप जानते हैं कि चॉकलेट में कई ऐसे चीजें भी होती हैं जोकि हमारे शरीर को धीरे-धीरे रोगी भी बना सकती हैं ? अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार चॉकलेट का सेवन मधुमेह और ह्रदयरोग को जन्म देने में सहायक हैं और साथ ही आपके शरीर की चुस्ती को भी कम कर देता हैं I अगर इन सभी को पढने के बाद हम यह कहे की चॉकलेट एक मीठा जहर है तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी I

जानकारी के अनुसार कुछ चॉकलेट में इथाइल, एमीन नामक कार्बनिक यौगिक होता हैं जो शरीर में पहुँच कर रक्तवाहिनियों की आंतरिक सतह पर स्थित तंत्रिकाओं को उदीप्त करता हैं और इसी से ह्रदयरोग का जन्म होता हैं I

ह्रदयरोग विशेषज्ञों का मानना हैं कि चॉकलेट के सेवन से तंत्रिकायें उदीप्त होने से डी.एन.ए. जींस सक्रिय हो जाते हैं और जिसके कारण से हृदय की धडकनें बढ़ जाती हैं I चॉकलेट के माध्यम से शरीर में प्रवेश करने वाले रसायन पूरी तरह से पच जाने तक अपना दुष्प्रभाव छोड़ते रहते हैं अधिकांश चॉकलेटो के निर्माण में प्रयुक्त होने वाली निकेल धातु भी ह्रदयरोगों को बढ़ावा देती हैं I

इसके अलावा चॉकलेट के अधिक प्रयोग से दांतों में दर्द, कीड़े लगना, पायरिया हो जाना, दांतों का टेढ़ा होना, मुंह में छाले हो जाना, स्वरभंग, गले में सूजन व जलन होना, पेट में कीड़े होना, मूत्र में जलन होना आदि अनेक रोग हो सकते हैं I

इसलिए कोशिश करिए की चॉकलेट जैसे मीठे जहर से दूर ही रहे हैं I और प्रयोग स्वयं और अपने बच्चों, दोस्तों को भी कम से कम ही करने दे I साभार आरोग्यनिधि

 

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY