झारखण्ड : रियल लाइफ “थ्री” नही पर “टू इडियट्स” ने जुगाड़ टेक्नोलॉजी से बचाई बच्चे की जान

0
1364

झारखण्ड : रियल लाइफ “थ्री” नही पर “टू इडियट्स” ने जुगाड़ टेक्नोलॉजी से बचाई बच्चे की जान

झारखण्ड जमशेदपुर के महात्मा गांधी मेमोरियल हॉस्पिटल में प्रसव के पहले गन्दा पानी पी लेने के कारण फेफड़े में पानी चला गया जिससे  बाद में बच्चे ने साँस लेना बंद कर दिया, जिसके कारण बच्चे को वेंटिलेटर में रखने की ज़रूरत थी।
baby-s_650_052915080106
ऐसे में डॉ. मनीष कुमार भारती और डॉ. रविकांत अस्पताल में वेंटिलेटर न होने पर बच्चे की जान बचाने के लिए rs. 60  का पीडिया ड्रिप और rs. 30 का थ्री- वे कैनुला को ऑक्सीजन सीलेंडर से जोड़कर कामचलाऊ वेंटिलेटर बनाया जिससे की बच्चे जान बचाई जा सकी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

2 × two =