पीपा पुल के निर्माण से मिटेगी बिहार और यूपी के बीच की दूरी

0
213


सिकन्दरपुर/बलिया : क्षेत्र के खरीद एवं दरौली घाटों के मध्य घाघरा नदी पर पीपा पुल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है।इससे इलाक़ाई लोगों को उम्मीद हो चली है कि अब पुल पर जल्द ही आम जनता को आवागमन की सुविधा मिल जाएगी।लोग पुल के माध्यम से नदी पार करके एक दूसरे प्रान्त में आवागमन करना शुरू कर देंगे। उधर नदी पार बिहार के दरौली गांव के समीप रास्ता बनाने के लिए मिट्टी खुदाई के दौरान एक ब्यक्ति मौके पर पहुंच कर हंगामा करने लगा। जिससे करीब दो घण्टा कार्य बाधित रहा।उक्त ब्यक्ति का कहना था कि जमीन मेरी है इसमें से मिट्टी नहीं काटी जाएगी ।बाद में दरौली के ही लोगों ने हस्तक्षेप करके उक्त ब्यक्ति को समझा-बुझा कर पुनः काम शुरू कराया। दो पाटों में बंटी नदी के दोनों पाटों में करीब आठ दर्जन पीपे जोड़ कर पुल तैयार कर दिया गया है।

पुल के ठेकेदार सुनील कुमार राय ने बताया कि इस वर्ष घाघरा नदी दो भागों में बट गई है ।जिससे दो अलग अलग पीपा पुलों का निर्माण कराना पड़ा है। बताया कि नदी के दक्षिणी पाट पर 30 पीपे तथा उत्तरी पाट में 65 पीपे लगे हैं। अब इस पाट पर मात्र नाका का निर्माण शेष रह गया है। जिसके लिए मिटटी को बराबर किया जा रहा था कि उसी दौरान दरौली केएक ब्यक्ति ने जमीन को अपना बताकर काम को रोक दिया। जिसपर दरौली के ही कुछ लोगों ने हस्तक्षेप करके समझा बुझा कर पुनः काम को चालू कराया । सुनील कुमार राय का कहना है की अब जल्द ही पुल के सभी काम पूरी कर आवागमन शुरू करा दिया जाएगा । अब दोनों प्रांत के लोगों को बेसब्री से इंतजार है कि कब पुल चालू हो जिससे कि आवागमन सुचारू रूप से हो सके।

रिपोर्ट – इमरान खान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here