पुरोहित की मौत के मामले में नामजद रिपोर्ट दर्ज

0
214

Representative
Representative

कुरावली/मैनपुरी : थाना क्षेत्र के ग्राम रसेमर निवासी पुरोहित का मैनपुरी – कुरावली मार्ग पर ग्राम महादेवा के निकट शव पड़ा हुआ मिला था। जिसमें कुछ लोगो का कहना था कि मौत वाहन की टक्कर लगने से हुई है। लेकिन परिवार के लोग हत्या करके दुघर्टना का रूप देने की बात कह रहे थे। परिवार के लोगों के द्वारा नामजद हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए प्रयास किए गये लेकिन थाना प्रभारी की हठधर्मिता के चलते घटना की रिपोर्ट दर्ज नही हो सकी थी। आखिरकार पुलिस कप्तान के प्रयास से बीते सोमवार को घटना की रिपोर्ट दर्ज हो गई।

थाना कुरावली क्षेत्र के ग्राम रसेमर निवासी 45 बर्षीय पुरोहित प्रदीप उर्फ बबलू पुत्र राधेश्याम बीते 2 फरवरी को नगला गढू में आयोजित शादी समारोह में रस्म अदा कर वहां से अपने गांव जाने की कहक र चला आया था। बाद में उसका शव ग्राम महादेवा के निकट मार्ग पर खून से लथपथ हालत में पड़ा मिला था। पास में मोटर साइकिल भी पड़ी हुई थी। घटनास्थल के पास पहुॅचे लोग कयास लगा रहे थ कि पुरोहित की मौत मार्ग दुर्घटना में हुई है। घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। उसके घटनास्थल पर पहुंचे परिजनो ने हत्या करके शव मार्ग पर लाकर फेंक देने का आरोप लगा कर नामजद तहरीर दी थी। कई दिनो तक मामले की रिपोर्ट थाना प्रभारी नौशाद अहमद खान के द्वारा दर्ज नहीं की गई। परिजन रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए भटकते रहे। आखिकार परिजन मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पुलिस कप्तान सुनीलकुमार सक्सैना की शरण में गये पुलिस कप्तान ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने के निर्देश जारी किए। मामले की रिपोर्ट मृतक पुरोहित की मां शकुन्तला देवी ने शेषराम यादव, देबेन्द्र यादव, घनश्याम यादव पुत्रगण रामबहादुर, सचिन कुमार उर्फ सोनू यादव पुत्र शेषराम निवासीगण ग्राम रसेमर के खिलाफ दर्ज कराई है। जिसमें लाठी डन्डो से पीट पीट कर हत्याकर सबूत मिटाने के उद्देश्य से शव को मार्ग पर लाकर डाल दिया गया।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY