बिहार के अररिया में समरसेबल से पानी न निकलने पर एक लड़की को बलि देने के चक्कर में 6 लोग गिरफ्तार |

0
312
child
Image Source – Punjab Kesari

अररिया – बिहार के अररिया से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है यहाँ पर 6 मजदूर और मिस्त्रियों ने मिलकर एक छोटी सी बच्ची को बलि देने की कोशिश की है | दरअसल आपको बता दें कि अररिया जिले के हयातपुर गाँव में वाटरसप्लाई के लिए एक बोरिंग की जा रही थी लेकिन काफी मशक्कत के बाद भी उस बोरिंग से जल नहीं निकल रही थी जिसके चलते बोरिंग के काम में जुटे मिस्त्री और कामगारों ने मिलकर स्कूल के बगल में ही रह रहे एक दंपत्ति की छोटी सी बच्ची को उठा लिया और घर के पीछे ही स्थित एक झाडी में जाकर उसका गला रेतने लगे | लेकिन तभी लड़की की रोने की अवाज सुनकर लड़की की माँ घर से बाहर आ गयी और उसने अपनी बच्ची को इस हालात में देखकर रोना शुरू कर दिया |

लड़की की माँ के अचानक से रोने की आवाज को सुनकर आस-पास के लोग भी इक्कठा हो गए और उन्हें इस तरह से आता देख कामगार और मिस्त्री भागने लगे लेकिन तभी गाँव वालों ने खदेड़कर पकड़ लिया और इनकी जमकर धुलाई भी की है |

गाँव के लोगों ने इन लोगों को मार-पीटकर उसी विद्यालय के एक कमरे में बंद कर दिया | जिसके बाद जैसे तैसे मामले की पूरी खबर पुलिस को मिली उसके बाद एसएसपी सिटी और थानाध्यक्ष भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँच कर जैसे तैसे लोगों को छुड़ाया और बाहर लेकर आये | सभी लोगों के ऊपर पुलिस ने एक अबोध बच्ची की ह्त्या का मामला दर्ज कर लिया है |

फिलहाल लड़की का चल रहा है इलाज-
बता दें कि प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया जा रहा है कि जिस बच्ची कि इस मामले में बलि देने का प्रयास किया गया है उस लड़की का अभी अररिया सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है | डाक्टरों के अनुसार लड़की अभी खतरे से बाहर है लेकिन वह पूरी तरह से स्वस्थ्य है हालाँकि थोडा डरी हुई है |

मामले में पश्चिम बंगाल व कटिहार जिले के विभिन्न गांवों के परशुराम मंडल, मो हारुण, लोकेंद्र मंडल, मो शहाबुद्दीन, दिनेश साह व सिराजुल हक को गिरफ्तार किया गया है | इधर गिरफ्तार लोग अपने को बेकसूर बता रहे थे |
घटना शर्मनाक व घिनौना है. इस मामले में सभी मजदूर व मिस्त्री के विरुद्ध कांड अंकित कर जेल भेजा रहा |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY