मोदी को गिरफ्तार करने वाले को एक अरब का ईनाम देंगे यह पाकिस्तानी नेता

0
413

पाकिस्तान के सांसद सिराज उल हक ने सोमवार को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के रावलकोट में अपनी पार्टी जमात-ए-इस्लामी के समर्थकों को संबोधित करते हुए यह एलान किया भारत के प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी पर एक अरब रुपये का ईनाम रखा हैं। गौरतलब हैं कि हक पाकिस्तान की संसद के ऊपरी सदन के सदस्य हैं। रावलकोट भारत के जम्मू के पुंछ जिले से 200 किलोमीटर दूर है।

सिराज उल हक़ पाकिस्तानी सांसद
सिराज उल हक़ पाकिस्तानी सांसद

जमात-ए-इस्लामी प्रमुख बस इतना ही कह कर नहीं रुका उसने आगे कहा कि मैं मोदी से कहना चाहता हूँ कि वह (भारत सरकार) सलाउद्दीन को कभी पकड़ नहीं सकती हैं I उसने आगे कहा कि तुम कहते हो कि सलाउद्दीन को जो गिरफ्तार करेगा उसे पच्चास करोंड दोगे I लेकिन मैं कहता हूँ कि मोदी को जो गिरफ्तार करेगा मैं उसे एक अरब रुपये दूंगा I गौरतलब हो कि सलाउद्दीन आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहद्दीन का सरगना हैं I

कश्मीर के मुद्दे पर भी हक ज़हर उगलने से बाज नहीं आया उसने कहा कि भारत सरकार कश्मीर के लोगों की आजादी में सबसे बड़ा रोड़ा बनी हुई हैं I उसने आगे कहा कि भारत सरकार कभी भी पकिस्तान की कभी दोस्त हो ही नहीं सकती और पकिस्तान के जो लोग दोस्ती की बात करते हैं उन्हें भारत चले जाना चाहिए I इतना ही नहीं हक़ ने पाकिस्तानी नेताओं को भी आड़े हाथों लेते हुए उन्हें भी अँधा, बहरा और गूंगा करार दे दिया हैं, हक ने कहा कि पाक नेता कश्मीरियों की शहादत भूल चुके हैं। कश्मीर का मुद्दा ‘बस डिप्लोमेसी’ और ‘फनकार डिप्लोमेसी’ से हल नहीं जा किया जाएगा।

हक ने रावलकोट में कहा कि मोदी ही कश्मीर और गुजरात में लोगों की हत्या के जिम्मेदार हैं। पाकिस्तान सरकार ने भी कश्मीर में लोगों पर हो रही ज्यादती से मुंह मोड़ लिया है। भारत के साथ दोस्ती तभी होगी, जब कश्मीर आजाद होगा। गौरतलब है कि सिराज उल  हक के इस विवादित बयान पर अब उनके ही देश में विरोध शुरू हो गया है। पाक पत्रकार मेहर तरार ने ट्वीट कर उन्हें नसीहत दी है कि वह इन पैसों का इस्तेमाल अपने इलाके में अस्पताल व बच्चों के लिए स्कूल खोलने के लिए करें।

Data source – Hindustan

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

seventeen + 5 =