प्रशिक्षु प्रशिक्षण के लिए दूरदर्शन पर चलेगा कार्यक्रम

0
159

doordarshan

जनता को बड़े पैमाने पर प्रशिक्षु प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रति जागरूक बनाने के लिए 10 कड़ियों वाला एक कार्यक्रम ‘हुनरबाज’ दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर प्रसारित किया जाएगा। देश में विशेष रूप से युवाओं के कौशल निर्माण में इसकी उपयोगिता होगी।

कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय ने उद्योगों के साथ-साथ युवाओं के प्रति अधिक उत्तरदायी बनाने के लिए प्रशिक्षु (अप्रेंटिस) अधिनियम, 1961 में संशोधन किया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र को दिए अपने संबोधन में कहा था कि ‘भारत के लाखों-करोड़ों युवाओं को कौशल हासिल करना चाहिए और इसके लिए देश भर में एक नेटवर्क होना चाहिए तथा यह पुराना सिस्टम नहीं होना चाहिए। देश के युवाओं को कौशल हासिल करना चाहिए, इससे वे भारत को एक आधुनिक देश बनाने में योगदान कर सकते हैं। जब भी वे विश्व के किसी देश में जाएंगे उनके कौशल को सराहा जाएगा। मैं युवाओं का ऐसा पूल बनाना चाहता हूं, जो रोजगार के अवसर पैदा करने में सक्षम हों और जो लोग रोजगार पैदा करने में सक्षम नहीं हैं तथा जिनके पास अवसर नहीं है, वे भी दुनिया के किसी कोने में अपनी कड़ी मेहनत और दक्षता के आधार पर सिर ऊंचा करके अपने समकक्षों का सामना करने में सक्षम हों। वे अपने कौशल से दुनिया भर में लोगों का दिल जीतें। हम इस तरह से युवाओं की क्षमता निर्माण के लिए काम करना चाहते हैं। मेरे भाइयों और बहनों, अत्यंत तीव्र गति से कौशल विकास को बढ़ाने के लिए एक संकल्प लिया गया है, मैं इसे पूरा करना चाहता हूं।’ प्रशिक्षु अधिनियम में संशोधन इस प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के उद्देश्य से किया गया है।

‘हुनरबाज’ एक अग्रणी टीवी कार्यक्रम है जो कौशल और नवाचार पर प्रकाश डालता है। यह कार्यक्रम लाखों युवा भारतीयों को कई ऐसे तरीकों के बारे में बताने में मदद करेगा, जिससे वे अपने कौशल को उन्नत कर सकते हैं, रोजगार के लायक बन सकते हैं और अपनी आविष्कारशील प्रतिभा का खुद के लिए व्यावसायिक उपयोग कर सकते हैं।

डीडी नेशनल चैनल पर ‘हुनरबाज’ का पहला एपिसोड 18 अक्टूबर, 2015 को सुबह 11:30 बजे प्रसारित होगा। इसके बाद शेष नौ कड़ियां उसी समय, उसी चैनल पर हर रविवार को प्रसारित की जाएंगी।

Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

two × 3 =