गरीबों के लिये वरदान रही 108 व 102 एम्बुलेंस सेवायें बंद होने से गरीबों में फैली मायूसी

0
71
प्रतीकात्मक

महाराजगंज/रायबरेली (ब्यूरो)- गरीबों को बेहतर स्वास्थ्य व इमरजेंसी सेवाओं को उपलब्ध कराने के उदेश्य से चलाई गई 102 व 108 एंबुलेंस ने अपनी सेवाएं रोक दी हैं । यह सेवा रोकने का मुख्य कारण इन एम्बुलेंसों को इंधन न मिल पाना बताया जा रहा है । कई दिनों से एंबुलेंस न चलने से क्षेत्र के मरीजों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

गरीब मरीजों व प्रसूताओं की डिलीवरी के लिये 108 एंबुलेंस सेवा व 102 एंबुलेंस सेवाएं वरदान साबित हुयी थी। लेकिन सत्ता बदलते ही यह सभी जरूरी सेवाएं ठप होती जा रही है। जहां अभी तक गरीब व लाचार मरीजों को एम्बुलेंस के माध्यम से निशुल्क सेवा मिल जाती थी वहीं अब मरीजों को यह सेवा उपलब्ध नहीं हो पा रही है जिससे मरीजों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है और इमरजेंसी समय में गरीबों को किराये के साधनों पर आश्रित होना पड़ रहा है वही ईंधन न मिलने से 102 व 108 एंबुलेंस सेवा मरीजों को नहीं मिल पाने से किराये के साधन गरीब मरीजों से मनमाना किराया वसूल कर रहे हैं ।

जिससे लोगों में सरकार के प्रति आक्रोश व्याप्त है वही एक फोन पर उपलब्ध होने वाली यह सेवा गांव गांव पहुंच कर गरीब व लाचार मरीजों को अस्पताल तक पहुँचाने का काम करती थी  लेकिन अब गर्भवती महिलाओ को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । कई दिनों से ठप चल रही है यह  सेवा कब तक ठप चलेगी इसका भी कोई अंदाजा नहीं है ।

रिपोर्ट -विनय सिंह चौहान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here