10वीं तथा 12वीं की परीक्षा में सोमवार को भी नकल की गंगोत्री जमकर बही

0
67


बलिया,ब्यूरो : यूपी बोर्ड द्वारा संचालित 10वीं तथा 12वीं की परीक्षा में सोमवार को भी नकल की गंगोत्री जमकर बही। नकल के ठेकेदारों व जिला प्रशासन के बीच आंखमिचौनी का खेल चलता रहा। पुलिस वाले जैसे ही ठेकेदारों को दौड़ाकर लौट रहे थे, ठेकेदार तत्काल कमरे की खिड़कियों तक पहुंचकर नकल का पोथा पहुंचा दे रहे थे। जिलाधिकारी गोविन्द राजू एनएस ने स्वयं कई केन्द्रों का निरीक्षण किया, जबकि जिला विद्यालय निरीक्षक व एसडीएम-तहसीलदारों की टीम भी चक्रमण करती रही। सुबह की पॉली में 42 तथा शाम की पॉली में जहां 02 परीक्षार्थी रस्टीकेट हुए, वहीं दो कक्ष निरीक्षकों को कार्यमुक्त तथा एक परीक्षार्थी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। वहीं, 17109 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी।

सोमवार की सुबह 10वीं गणित की परीक्षा थी, जिसमें 93704 परीक्षार्थी थे। लेकिन 76595 परीक्षार्थी ही परीक्षा कक्ष तक पहुंचे। गणित की परीक्षा को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह सक्रिय रहा। कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार 10वीं की परीक्षा में 32 बालक तथा 10 बालिकाओं को नकल करते पकड़े जाने पर रस्टीकेट कर दिया गया। वहीं, शाम की पॉली में इंटर शिक्षा शास्त्र की परीक्षा थी। इसमें 02 परीक्षार्थी रस्टीकेट किये गये। डॉ. लोहिया उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के एक परीक्षार्थी पर मुकदमा दर्ज कराया गया, क्योंकि उसका पेपर बाहर था। इसी केन्द्र पर एक कक्ष निरीक्षक को कार्यमुक्त किया गया। इसके अलावा बालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दूबेछपरा के एक कक्ष निरीक्षक को कार्यमुक्त किया गया। उधर, रेवती क्षेत्र के एनडी इंटर कालेज, छेड़ी परीक्षा केंद्र पर सोमवार की प्रथम पाली में चल रहे हाई स्कूल गणित एवं गृह विज्ञान की परीक्षा के दौरान नकल कराने वालों ने विद्यालय के एक कक्ष की दीवाल तोड़ कर नकल सामग्री भेजने का सुराग बना दिया। केंद्र व्यवस्थापक ने कहा कि केंद्र पर नियुक्त कक्ष निरीक्षकों की लगायी गयी ड्यूटी में नाम मात्र के लोग जहां ड्यूटी पर आते हैं, वहीं पुलिस की व्यवस्था भी केन्द्र पर भीड़ के दबाव को देखते हुए नहीं के बराबर है।

रिपोर्ट – संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here