मन की बात में बोले पीएम मोदी, 125 करोड़ देशवासी न्यू इंडिया की मजबूत नीव रखेंगे

0
80

नई दिल्ली- आज प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने 30वें मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश की आम जनता को संबोधित किया। कार्यक्रम की शुरुआत में प्रधानमंत्री श्री मोदी ने सबसे पहले बांग्लादेश को उसकी आजादी की शुभकामनाएं दी और बांग्लादेश तथा भारत के संबंधों को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों ही देश बहुत अच्छे मित्र हैं।

भगत सिंह सुखदेव राजगुरु को भी दी श्रद्धांजलि-
इसके बाद प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अमर शहीद भगत सिंह सुखदेव और राजगुरु को भी श्रद्धांजलि दी इन तीनों महापुरुषों को श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इन तीनों ही युवकों से पूरी की पूरी ब्रिटिश सत्ता भय खाती थी। यह हिंदुस्तान के ऐसे सिपाही थे जिन्होंने अपनी पूरी जिंदगी सिर्फ भारत के लिए जी और उन्होंने अपने प्राणों को भी भारत पर न्योछावर कर दिया। पीएम मोदी ने देश के युवाओं से अनुरोध करते हुए कहा कि मैं आप सभी युवाओं से अनुरोध करता हूं कि जब भी आपके जीवन में समय मिले आप एक बार इन महापुरुषों की समाधि स्थल के दर्शन करने के लिए अवश्य जाएं।

आपको बता दें कि बीते 23 मार्च को भगत सिंह सुखदेव और राजगुरु को उनके शहीदी दिवस पर पूरे देश ने याद किया था गौरतलब है कि 23 मार्च 1931 को इन तीनों ही महान स्वतंत्रता सेनानियों को बर्बर अंग्रेजी शासन द्वारा फांसी पर लटका दिया गया था।

चंपारण सत्याग्रह की 100 वीं वर्षगांठ पर भी दी बधाई-
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने चंपारण सत्याग्रह 100 वीं वर्षगांठ के अवसर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करते हुए कहा कि हम चंपारण सत्याग्रह की विश्व वर्षगांठ मनाने जा रहे हैं उन्होंने कहा कि 1917 में भारत लौटने के बाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी बिहार के चंपारण गए थे वहां से उन्होंने सत्याग्रह की मिली थी जिसके बाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने अपने जीवन का प्रथम सत्याग्रह आंदोलन चंपारण से ही प्रारंभ किया था प्रधानमंत्री ने कहा यह चंपारण सत्याग्रह का शताब्दी वर्ष है।

सवा सौ करोड़ देशवासी मिल कर डालेंगे न्यू इंडिया की नींव-
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों के योगदान को रेखांकित करते हुए आज कहा है किस सवा सौ करोड़ देशवासियों कि यह बदलाव की इच्छा है बदलाव का प्रयास ही है जो न्यू इंडिया की मजबूत न्यू डालेगा उन्होंने कहा देशवासी अगर संकल्प कर लें तो न्यू इंडिया का सपना हमारे सामने ही सच हो सकता है।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY