भारत के बाहादुर सैनिकों के सामने आत्मसमर्पण करते हुए पाकिस्तानी अफसरों और सैनिकों का यह वीडियों आपने कभी न देखा हो तो देखें

0
7920

1971 का वह युद्ध दुनिया के तीन देश तो कभी नहीं भूल पायेंगे जब तक वह दुनिया के नक़्शे पर रहेंगे जिनमे सबसे पहला है पाकिस्तान जिसकी इस युद्ध भीषण पराजय हुई और द्वतीय विश्वयुद्ध के बाद पहली बार दुनिया के इतिहास में किसी देश ने अपने दुश्मन देश के सामने इतनी बड़ी मात्रा में हथियारों का और अपने सैनिकों का आत्मसमपर्ण किया था I

इस युद्ध को कभी न भूलने वाला दूसरा देश है बांग्लादेश आपको बता दें कि बांग्लादेश इस युद्ध से पहले कभी अस्तित्त्व में था ही नहीं इस युद्ध से पहले जहाँ पर आज बांग्लादेश है वहां पर पूर्वी पाकिस्तान हुआ करता था I इस युद्ध में भारतीय सेना ने तत्कालीन जनरल मानिक शा के नेत्रत्त्व में पाकिस्तानी सेना को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था और इसी कारण से बांग्लादेश का उदय हुआ और पश्चिमी पाकिस्तान के अत्याचारी शासकों से बंगाली जनता को मुक्ति मिल सकी I

इस युद्ध को कभी न भूलने वाला तीसरा सबसे अहम् देश है हमारा भारत वर्ष जिसने इस युद्ध में निर्णायक भूमिका अदा की और बंगाल की निर्दोष जनता जो कि अत्याचार और दमन का शिकार हो रही थी उसे मुक्ति दिलाई साथ ही दुनिया के नक्से पर एक नए देश को अस्तित्त्व में लाया और इतना ही नहीं दुनिया के इतिहास में द्वतीय विश्वयुद्ध के बाद की सबसे बड़ी सैनिक विजय भी प्राप्त की I

देखें 1971 के युद्ध के बाद भारत के बहादुर योद्धाओं के सामने पाकिस्तानी सैनिकों और हुक्मरानों के झुके हुए सर, हथियार डालते हुए पाकिस्तानी अफसर और सैनिक –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY