खुलासा- मात्र 18 महीनों में दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकार ने चाय- नास्ते में खर्च कर डाले 1 करोंड़ रूपये

0
1445

arvind kejariwal

दिल्ली- आम आदमी पार्टी और उसके प्रमुख दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के जनता के पैसे बचाने और उसे जनता के हितों पर खर्च करने के सारे वादे अब झूठे और खोखले लगने लगे है | दरअसल आपको बता दें कि एक आरटीआई के माध्यम से यह बात उजागर हुई है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ऑफिस ने मेहमानों की आवभगत में बीते 18 महीनों में 1 करोंड रूपये खर्च कर दिये है |

1 करोंड़ रूपये खर्च कर दिए नास्ते और खाने पीने में –
दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के कार्यालय की तरफ से जानकारी दी गयी है और बताया गया है कि पिछले 14 फरवरी 2015 से लेकर जुलाई 2016 तक में 58 लाख रूपये सिर्फ चाय नास्ते और अन्य खाने पीने की चीजों में खर्च कर दिए है | जबकि पिछले यदि 18 महीनों की बात करें तो यह कुल खर्चा 1 करोंड़ रुपया है |

दरअसल आपको बता दें कि एक आरटीआई दाखिल कर एक आरटीआई कार्यकर्ता ने दिल्ली सरकार से यह पूंछा था कि दिल्ली सरकार ने अब तक चाय नास्ते में कितना पैसा खर्च किया है तो जवाब दिल्ली सरकार से दिया गया और बताया गया कि 1 करोंड़ रुपया |

उधर यह बात मीडिया में आने के बाद आम आदमी पार्टी इसे भारतीय जनता पार्टी की एक शाजिश बता रही है और कह रहे है कि जिस ब्यक्ति ने आरटीआई डालकर यह जानकारी मांगी थी वह एक बीजेपी कार्यकर्ता है | बीजेपी उसे बदनाम करने की शाजिश रच रही है | आम आदमी पार्टी का कहना है कि उसके नेता एक भी पैसे की बर्बादी नहीं करते है बल्कि वे तो सबसे सस्ते में काम चलाते है |

कहाँ-कहाँ खर्च किये अरविन्द केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने इतने पैसे –
मुख्यमंत्री केजरीवाल के दफ्तर ने 22 लाख 42 हजार 320 रुपये चाय, समोसे पर खर्च किए | वहीं मुख्यमंत्री के कैंप ऑफिस में नाश्ते पर 24 लाख 86 हजार 921 रुपये खर्च हुआ | इस प्रकार करीब 47 लाख रुपये मुख्य दफ्तर व कैंप ऑफिस ने खर्च किए |

डिप्टी सीएम सिसौदिया की ऑफिस का खर्चा 11.5 लाख –
उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के दफ्तर ने 5.62 लाख और कैंप ऑफिस ने 5.66 लाख रुपये नाश्ते पर खर्च किए |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY