मात्र औपचारिकता बनकर रह गया पहला ब्लाक दिवस

0
81


बीघापुर/उन्नाव (ब्यूरो) योगी सरकार के निर्देष जनसाधारण की समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए शुरू हुआ ब्लाक दिवस विकास खण्ड बीघापुर में पहले ही दिन औचारिकताओं में सिमट कर रह गया। केवल बिजली विभाग के दो लिपिक बकाया बिजली बिलों को जमा करने व नये कनेक्शन का कार्य करते रहे, परन्तु न तो इनके जेई ही नजर आये न ही एसडीओ और तो और जो चंद विभागों के अधिकारी व उनके सहायक आये भी तो हस्ताक्षर करके चलते बने।

रजिस्टर में खण्ड शिक्षा अधिकारी, जल निगम के जेई, बाल विकास की परियोजना अधिकारी, सहकारिता के सहायक विकास अधिकारी के उपस्थित पंजिका में हस्ताक्षर तो नजर आये पर उनका कहीं अता पता नहीं था। परिसर में ही स्थित पशु चिकित्सालय व स्वास्थ्य विभाग का एक अदना सा कर्मचारी तक मौजूद नहीं रहा। सबसे बड़ी बात तो यह रही कि विकास खण्ड के एडीओ पंचायत को छोड़ एक भी ग्राम पंचायत विकास अधिकारी तक की मौजूदगी नहीं थी। इसी तरह बगल में स्थित थाने से भी एक भी उपनिरीक्षक तक नहीं पहुंचा। दर्जनांे किसान कृषि विभाग के गोदाम प्रभारी को खोजते नजर आये। बिजली विभाग में 50 नये कनेक्शन व बिलों को जमा करके 2 लाख 7 हजार रुपये राजस्व खाते में जमा कराये।इस तरह से षासन की मंषा के अनुरूप क्या कभी सामान्य जनमसानस की समस्याओं का निस्तारण हो सकेगा? जब अधिकारी कर्मचारी ही मौजूद नहीं रहते।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY