STF को चकमा देकर फरार हो गया अखिलेश का मंत्री प्रजापति, गनर सहित 2 गिरफ्तार

0
976


लखनऊ : महिला और उसकी नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म के आरोपी अखिलेश सरकार के कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति एक बार फिर से एसटीएफ को चकमा देकर फरार होने में सफल रहा है लेकीन इस बार गायत्री के गनर सहित 2 अन्य को पुलिस को ने गिरफ्तार कर लिया है |

दरअसल आपको बता दें कि गायत्री प्रजापति की गिरफ्तारी के लिए यूपी पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है | इस दौरान पुलिस को अपने सूत्रों के हवाले से खबर लगी थी कि गायत्री प्रजापति अपने सहयोगियों के साथ नॉएडा आगरा एक्सप्रेस वे से गुजरने वाला है इस दौरान जेवर टोल प्लाज़ा पर उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने अपना जाल बिछाया | लेकिन गायत्री प्रजापति वहां से भी बच कर निकल गया हालाँकि उनके गनर सहित 2 साथियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिल गयी है |

उधर आपको बता दें कि एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) दलजीत सिंह ने बताया कि गायत्री प्रसाद प्रजापति के गनर चंद्रपाल के बाद इस मामले में दो और सहआरोपी अशोक तिवारी और आशीष शुक्ला को गिरफ्तार किया गया है | पुलिस उन दोनों को लेकर नोएडा से लखनऊ आ रही है | चंद्रपाल से पूछताछ जारी है, उन्होंने बताया है कि उसे सहआरोपी बनाए जाने के बाद पुलिस विभाग से निष्कासित कर दिया गया था |

सुप्रीमकोर्ट से भी नहीं मिली राहत –
उधर आपको बता दें कि सुप्रीमकोर्ट से भी गायत्री प्रजापति को राहत नहीं मिली है | देश की सर्वोच्च न्यायालय ने गायत्री प्रजापति द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा है कि, “हमनें गिरफ्तारी को लेकर कोई भी आदेश नहीं दिया है, हमनें तो यूपी पुलिस को केस दर्ज कर सिर्फ जांच के आदेश ही दिए है यदि पुलिस चाहे तो वह गायत्री को गिरफ्तार कर सकती है साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा है कि गायत्री प्रजापति को उक्त मामले में सम्बंधित कोर्ट में जाकर याचिका दाखिल करना चाहिए |

जारी है नॉन बेलेबल वॉरंट –
आपको बता दें कि गायत्री प्रजापति के ऊपर यूपी पुलिस के द्वारा नॉन बेलेबल वारंट जारी है और इस वारंट के बाद से ही यूपी पुलिस उन्हें उनके सभी ठिकानों पर खोज रही है साथ ही उनके हर एक सहयोगी से भी पुलिस पूछताछ कर रही है | सूत्रों के हवाले से खबर है कि यूपी पुलिस उनके सभी नंबरों को पुलिस ट्रैक कर रही है और साथ ही दिल्ली, नॉएडा, लखनऊ, कानपुर, बिजनौर, कन्नौज सहित पूरे सूबे के हर संभावित ठिकाने पर उनको पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY