सरस्वती शिशु मंदिर में 25 दिवसीय योग शिविर का आयोजन

प्रतीकात्मक

जालौन(ब्यूरो)- स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर में आयोजित 25 दिवसीय योग शिविर के 20वें दिन शीतली प्राणायाम के जरिए इस भीषण गर्मी से बचने के उपाए बताए गए।

योग शिविर का आरंभ मंडल प्रभारी रमेशचंद्र द्विवेदी एवं जिला प्रभारी हरिश्चंद्र सिंह ने दीप प्रज्ज्वलन कर किया। इस दौरान मुख्य योग प्रशिक्षक वाचस्पति मिश्रा ने उपस्थितजनों को योग सिखाते हुए बताया कि योग लोभ, मोह व क्रोध को शांत करता है। जब योग से मन नियंत्रित कर लेते हैं, तो हमारे विचार सकारात्मक रूप से हमारी वाणी में प्रवाहित होने लगते हैं। यदि प्रत्येक व्यक्ति योग को अपनी दिनचर्या में शमिल कर ले, तो उन्हें बहुत से लाभों की प्राप्ति हो सकती है। योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा से व्यक्ति शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकता है।

शिविर में उपस्थित लोगों को कपालभांती, अनुलोम-विलोम, मंडूक आसन, वज्रासन, सूक्ष्मासन आदि का प्रशिक्षण देते हुए योग से होने वाले लाभों के बारे में बताया गया। तो वहीं, इस भीषण गर्मी से बचने के लिए शीतली प्रणायाम विधि भी बताई गई। योग प्रशिक्षक ने बताया कि शीतली प्राणयाम करने से शरीर में ठंठक का आभास होता है एवं इस आसन के जरिए पानी की कमी भी दूर होती है।

इस मौके पर केसी पाटकार, महेंद्र कौशल, विपिन, आनंद, विजय महाजन, प्रतापवीर सिंह, आश्वनी मिश्रा, अभिलाष सक्सेना, अखिलेश गुप्ता, दीपक चैरसिया, नीरज सोनी आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here