स्कूल के बरामदे पर बना 25 फीट गहरी सुरंग

0
39

रोसड़ा/समस्तीपुर(ब्यूरो)- बच्चों के जान की कीमत काफी कम आंकते है सरकारी महकमे के महामहिम| तभी तो शिवाजी नगर प्रखंड अंतर्गत योगिया गांव में कुआं पर बने प्राथमिक विद्यालय में तीसरे दिन भी ध्वस्त जमीन जस की तस बनी हुई है| जिसकी गहराई लगभग 25 फीट आंकी गयी है| बावजूद विद्यालय में पठन-पाठन जारी है| इसके चपेट में आने के बाद जान बचाना काफी मुश्किल काम होगा|

25 फीट गड्ढे को ग्रामीणों ने पहल कर बांस-बल्ला से काम चलाऊ तरीके से ढंक दिया है| जो पूर्ण रूप से सुरक्षित नहीं है| ताज्जुब तो इस बात की है कि कैसे सुरक्षा मानक को नजर अंदाज करते हुए कुआं को बंद कर उसके ऊपर स्कूल का निर्माण कर दिया गया था| शिक्षा विभाग के पदाधिकारी इस करतूत से अनजान है|

हालांकि हादसा के भयावहता को देख उक्त विद्यालय के आधे बच्चे स्कूल आना बंद कर चुके हैं| भगवान-भगवान कर बचे आधे बच्चे पढ़ाई करने स्कूल पहुंच रहे हैं| पर उनके अन्दर बैठा डर पढाई में बाधा पहुंचा रही है| वहीं घटना के दूसरे दिन प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी राम प्रवेश सिंह ने घटना के दूसरे विद्यालय पहुंच कर मामले की जांच पड़ताल की थी|

प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि इस कुआं पर न जाने किसके अनुमति पर उक्त विद्यालय का निर्माण करा दिया गया, जो कि साफ ही गुनाह किया गया है| उन्होंने कहा कि शुक्र है कि उक्त जमीन के धंसने से कोई बड़ी घटना होने से बाल बाल बच गयी| इधर बीईओ ने बताया कि 2007 में विद्यालय के वर्तमान एचएम के देख-रेख में विद्यालय निर्माण कराया गया था|

उस समय कैसे उक्त कुआं को नजर अंदाज कर दिया गया| उक्त गड्ढे की गहराई को देखने के बाद ऐसे लग रहा है कि इसके अंदर एक विशाल गहरा कुआं है जिस पर आज तक बच्चे की पढ़ाई होती आ रही है| निरीक्षण में पहुंचे बीईओ को ग्रामीणों ने काफी खरी-खोटी सुनाई| काफी ग्रामीणों ने अपने बच्चों को स्कूल ना भेजने की धमकी देते हुए कहा कि अविलम्ब दूसरे जगह स्कूल को शिफ्ट कर दिया जाय | तथा दोषी को सजा मिले|

रिपोर्ट-रंजीत कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY