पौधों की २८०० प्रजातियां संकट मे

0
133

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

गोरखपुर ब्यूरो : वानस्पतिक अनुसंधान लखनऊ के निदेशक प्रो.एस.के.बारिक ने कहा कि आज पौधो की २८०० प्रजातियां संकट मे है|देश मे ३७ संस्थानो मे वैज्ञानिको ने सौ प्रजातियों का चयन कर उनके संरक्षण के उपाय खोज लिये है ७५ पौधो को संरक्षित करने के लिए सभी लोगो को आगे आना होगा|

यह बातें डी.डी.यू.गोरखपुर के वाटनी विभाग मे प्रो.एस.क बारिक भार्गव मेमोरियल ब्याख्यान समारोह को संबोधित करते हुए कही|उन्होने पौधो की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि परिस्थितकी तंत्र को ठीक रखने मे वनस्पतियां सहायक होती है|उदाहरण देकर समझाया कि प्राकृतिक परिवर्तन से १०० बर्ष मे एक पौधा विलुप्त होता है लेकिन मानव द्वारा उत्पन्न दोहन के कारण प्रत्येक बर्ष कम से कम १०० पौधे विलुप्त के कगार पर पहुंच रहे है|
इस दौरान कार्यक्रम की अध्यक्षता डी.डी.यू.के कुलपति प्रो.अशोक कुमार ने की|

रिपोर्ट-जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY