साइबर आतंक से बैंक एटीएम खाली करने वाले तीन अपराधी दबोचे गए 

0
74
                                                                      प्रतीकात्मक

भदोही ब्यूरो- उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के जिलों में साइबर अपराध के ज़रिए एटीएम से लूट को अंजाम देने वाले तीन बदमाशों को दबोचने में भदोही पुलिस को बड़ी सफलता मिली है । जबकि एक भागने में सफल रहा । सभी जौनपुर जिले से सम्बन्धित हैं । पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने यह गिरफ्तारी भदोही कोतवाली के धौरहरा पुल से किया है । बदमाशों के पास से 29800 रुपया नकद सहित पाँच एटीएम कार्ड ,पांच किलोग्राम गांजा , एक तमन्चा के साथ जिन्दा कारतूस और तीन मोटर साईकिल , चार मोबाईल सेट और सिमकार्ड बरामद किया है ।  अपराधियों का जाल पूर्वांचल के कई जिलों में फैला था । पुलिस की यह बड़ी सफलता मानी जा रही है |

शनिवार को पुलिस लाइन में पुलिस आधीक्षक सचिन्द्र पटेल ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि जिले में  घटित टप्पेबाजी ,साइबर क्राइम व एटीएम हैंक करके व बदल कर पैसा निकालने की घटनाओं के नियंत्रण व अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया था । सीओ भदोही परमहंस मिश्रा के निर्देशन मे क्राइम ब्रांच की टीम लगाई गई थी।क्राइम ब्रान्च भदोही  द्वारा इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों व सीसीटीवी फूटेज का विश्लेषण कर आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है । आरोपीयों का पूर्वान्चल के विभिन्न जनपदों मे अपराधिक इतिहास रहा है । जौनपुर में 2014 मे हुये चर्चित अटाला लूट और हत्या काण्ड के साथ सरायख्वाजा में  2016 मे हुये डबल मर्डर मे सभी अभियुक्त शामिल रहे हैं । यह गैंग भदोही निवासी अजय जायसवाल का एटीएम बदल कर उनके खाते से लगभग 70000 रुपये निकालने की घटना को अन्जाम दिया था । जिन लोगों को पुलिस ने धौरहरा पुलिया के पास से गिरफ्तार किया है, उनमें रामजीत यादव उर्फ अलाउ पुत्र रामपलट यादव निवासी बैरयाकाजी थाना सरायख्वाजा, दिनेश कुमार प्रजापति पुत्र रामनाथ प्रजापति निवासी हरखमलपुर और दिवाकर बिन्द पुत्र छोटे लाल विन्द निवासी जपटापुर (सैफपुर) को पुलिस ने गिरफ्तार किया है ।

सभी जौनपुर जिले के सरायख्वाजा थाने के निवासी हैं । जबकि अरुण यादव उर्फ गुड्डू पुत्र रामचेत यादव निवासी गुलालपुर थाना सरायख्वाजा जनपद जौनपुर भागने में सफल रहा । एसपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों का बड़ा आपराधिक इतिहास है । चार लोगो का गैंग है । एक साथ गुट बना कर सुनियोजित तरीके से जौनपुर, भदोही,  वाराणसी, सुलतानपुर, प्रतापगढ, आजमगढ तथा अम्बेडकरनगर में लूट, छिनैती, हत्या व मादक पदार्थो की तस्करी तथा एटीएम हैंग व बदल कर पैसा निकालने की घटनाओं को अंजाम देते थे । आरोपियों का दावा है कि मुख्य सरगना रामजीत यादव उर्फ जलाऊ है । यूनियन बैंक एटीएम और यूको बैंक के एटीएम पर अपने टारगेट को सेट करते है । क्योकि यूनियन बैंक व यूको एटीएम मशीन को हैंग कराना सबसे आसान होता है । एसपी ने गिरफ्तारी एवं बरामदगी करने वाली टीम को नकद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है ।

रिपोर्ट – रामकृष्ण पाण्ड़ेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here