शादी के 3 दिन पहले युवक की हत्या, पुलिस की भूमिका संदिग्ध

0
225

 

अमेठी (ब्यूरो)- शादी से 3 दिन पहले युवक की धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर दी गई। ये वारदात पीपरपुर थाने के परसीपुर गांव में अंजाम पाई, जहां बीती रात युवक अपनी भांजी की शादी में शामिल होने पहुंचा था। उधर इस मामले में पीपरपुर एसओ की भूमिका संदिग्ध नज़र आई, एसओ ने हत्या को दुर्घटना में बदलने की भरपूर कोशिश किया तो एसपी भी एसओ की हां में हां मिलाते नज़र आए। फिलहाल मृतक के पिता ने थाने पर हत्या की तहरीर दिया है।

200 मीटर दूर लहूलुहान हालत में मिली लाश…

जानकारी के अनुसार प्रतापगढ़ जनपद के कोंहदौर थाने के कांधरपुर निवासी कल्लू प्रसाद वर्मा अपनी नत्नी के ब्याह में यहां पीपरपुर थाने के परसीपुर गांव में आये थे। 8 मई की रात यहां नत्नी का ब्याह था, बरात दरवाज़े पर आ चुकी थी और बेटे गोविंद संग सभी बारातियों के स्वागत-सत्कार में लगे थे।

तभी रात 9 बजे बेटे गोविंद वर्मा (27) के फोन पर बेल हुई और वो बात करते हुए बारात के स्थान से 200 मीटर आगे बढ़ गया। पर घंटों बीत जानें के बाद भी जब वो नहीं लौटा तो परिजनों को शंका हुई।ढ़ूंढ़ते हुए जब परिजन वारदात स्थल पर पहुंचे तो वहां का मन्ज़र देख सभी दंग रह गए।

बेटे गोविंद के सर और गले पर धारदार हथियार से प्रहार किया गया था, जिससे उसका अधिक खून बह चुका था। घायल हालत में परिजन उसे लेकर हास्पिटल  पहुंचे तो डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

दुर्घटना की तहरीर देने के लिए एसओ बना रहे थे दबाव....

इसके बाद देर रात रोते-बिलखते परिजन थाना पीपरपुर पहुंचे। मृतक के भाई मोतीलाल ने बताया कि यहां जब उन लोगों ने एसओ भरत उपाध्याय को घटना के बारे में जानकारी दिया और कहा कि गोविंद की हत्या कर दी गई। तो इस पर एसओ ने उन्हें फटकार लगाते हुए कहा कि क्या तुम सब डाक्टर हो जो किसी की हत्या को डिक्लेयर कर दोगे।

आरोप है की इसके बाद एसओ ने परिजनों से दुर्घटना की तहरीर लिख कर देने की बात कही। परिजनों ने जब इसका विरोध किया तो उन्होंने मुकदमा दर्ज करने से ही मना कर दिया और फिर उच्चाधिकारियों को भ्रामित करते हुए उन्हें दुर्घटना की ही सूचना दिया।

सोशल मीडिया पर गर्माया मामला तो कुर्सी बचाने के लिए मौके पर पहुंचे एसपी…

वहीं इस मामले में जब एसपी अमेठी अनीस अहमद अंसारी से जानकारी चाही गई तो वो भी एसओ की ही जुबान बोलते नज़र आए। लेकिन मंगलवार जब मामला दोपहर तक गर्मा उठा और सोशल मीडिया पर मृतक की फोटो वायरल हुई तो एसपी महोदय अपनी कुर्सी बचाने के लिए मौके पर पहुंचे। उधर पिता कल्लू प्रसाद वर्मा ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है।

प्रेम-प्रसंग की बात आ रही सामने

बता दें कि मृतक गोविंद वर्मा की 3 दिन बाद 12 मई को परसीपुर गांव के बगल दिलावल पुर में तेज बहादुर वर्मा के घर बारात आना थी। गोविंद की सगाई तेज बहादुर की पुत्री पूनम वर्मा के साथ हुई थी।

सूत्रों की मानें तो पूनम का किसी अन्य लड़के के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसके चलते ये वारदात अंजाम पाई है।

एसपी ने एसओ को किया निलम्बित

पीपरपुर थाने के परसी पुर में हुई युवक की हत्या के मामले को दुर्घटना में दर्ज करने व मीडिया को भ्रामक सूचना देने के आरोप में अमेठी पुलिस अधीक्षक अनीस अहमद अंसारी ने थानाध्यक्ष भरत उपाध्याय को  निलंबित किया।⁠⁠⁠⁠

रिपोर्ट-दीपक मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here