हत्या के तीन दिन बाद भी पुलिस को नहीं मिल सका कोई सुराग

0
200

Representative
Representative

बीघापुर उन्नाव : थाना क्षेत्र के घाटमपुर खुर्द में पूर्व प्रधान की गोलीमारकर हुई हत्या के खुलासे के मामले में पुलिस अभी 3 दिन बीत जाने के बाद भी किसी मुकाम पर नहीं पहुंची है। हत्या के कारणो को लेकर कयासबाजी के साथ घटना के समय मौजूद लोगो से पुलिस ने पूंछतांछ करने से कोई अहम सुराग हाथ नहीं लग सका है। इसी से पुलिस घटना के खुलासे में देर लगने की बात कह रही है।

29 जनवरी रविवार को देर शाम घर के पास ट्यूबवेल में आग ताप रहे घाटमपुर खुर्द के पूर्व प्रधान 40 वर्षीय मनोज यादव को अज्ञात लोगो ने गोली मार दी थी जिनकी कानपुर अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई थी। पिता प्रेम शंकर ने 4 अज्ञात लोगो के नाम रिपोर्ट दर्ज कराई। घटना के बाद से ही सक्रिय पुलिस ने मृतक के साथ आग ताप रहे अदनखेड़ा के अयोध्या व कुलदीप के घटना के बाद फरार हो जाने पर शंका की सुई घुमाई और दोनो को हिरासत में लेकर पूंछतांछ भी की किन्तु कोई अहम सुराग नहीं मिल पाया। पुलिस का मानना है कि हत्यारे पेशेवर व मृतक के परिचित हैं। सूत्रो की माने तो पुलिस मृतक और हत्यारो में निकट सम्बंध मान रही है और कयास लगा रही है कि किसी जमीनी सौदेबाजी को लेकर घटना को अंजाम दिया गया हो। मृतक राजनीतिक क्षेत्र में प्रभावशाली था किन्तु पुलिस इसे हत्या का कारण नहीं मान रही है। घटना के बाद शीघ्र खुलासा करने वाली पुलिस अब सही मुकाम पर पुहंचने के लिए हाथ पैर मार रही है। थानाध्यक्ष बृजमोहन को कहना है कि हत्यारो के अज्ञात होने से खुलासा करने में कुछ समय लग सकता है लेकिन घटना को अंजाम देने वालो को जरुर जेल भेज दिया जायेगा।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY