अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में 3 की मौत

0
97


उन्नाव (ब्यूरो) थाना क्षेत्र में अलग-अलग दुर्घटना में महिला समेत तीन की मौत हो गयी जबकि तीन लोग घायल हो गए है, मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है |

जानकारी के मुताबिक उन्नाव थाना क्षेत्र के पतारी गांव की केतकी पत्नी अवधेश उम्र 30 वर्ष अपने मायके मोहान आई थी, जहां वो सुबह 10 बजे अपने पिता रामा के बाग पैदल जा रही थी कि मलिहाबाद रोड पर झाला के पास एक सीमेंट लदे ट्रक ने टक्कर मार दी जिससे केतकी गम्भीर रूप से घायल हो गई जिसे मोहान के कस्बे के लोग एम्बुलेंस से सीएचसी हसनगंज ले गए जहां उसकी मौत हो गई |


मौत की सूचना पर मोहान के कस्बा कटरा निवासी अशद पुत्र शाबिर 42वर्ष भी मोहल्ले के नाते मृतका को देखने CHC गया था जहां से वो वापस अपने घर मोटरसाइकिल से जा रहा था अभी वो लखनऊ बांगरमऊ रोड पर फायर स्टेशन के पास पहुचा था कि विपरीत दिशा से आ रही ट्रैक्टर ट्राली में पीछे से कंटेनर ने टक्कर मार दी जिससे ट्रैक्टर अनियंत्रित हो गया और पलट गया जिसकी चपेट में अशद भी गया और मोटरसाइकिल समेत ट्रैक्टर के नीचे दब गया, जब तक राहगीर अशद को ट्रैक्टर के नीचे से निकालते तब तक अशद दम तोड़ चुका था उधर कंटेनर का ड्राइवर घटना को देख कंटेनर को छोड़ कर भाग गया, ट्रैक्टर ट्राली पर बैठे तीन लोग जो कि फरहद पुर मंडी से आम बेच कर वापस आ रहे थे ट्रैक्टर पलटने से वो भी गंभीर रूप से घायल हो गये जिसमे रामकिशन पुत्र मेवालाल निवासी ऊंचागांव थाना क्षेत्र हसनगंज गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे CHC हसनगंज में प्रथमिक़् उपचार कर जिला अस्पताल रेफर कर दिया जहाँ रास्ते मे उसकी मौत हो गई |


कमलेश व एक अन्य निवासी ऊंचागांव को प्राथमिक उपचार कर घर भेज दिया है, इधर अशद के घर मे जैसे ही मौत की खबर पहुची घर मे कोहराम मच गया, ईद की सारी खुशियां मातम में बदल गई, हर किसी के मुंह पर एक बात आ रही थी कि नेकी करने के चक्कर में खुद की जान चली गई ।

एक्सीडेंट की जानकारी जैसे ही कोतवाली में मिली कोतवाली पुलिस आनन-फानन मय फोर्स पहुचकर ट्रैक्टर ट्राली को किनारे कर घायलों को अस्पताल पहुचाकर जाम रास्ते का आवागमन चालू कराया। एक ही दिन में तीन घरों में कोहराम मचा हुआ है, मृतका केतकी के तीन छोटे-छोटे बच्चे सर्वेश 16 वर्ष, तन्नू 11 वर्ष, अभिषेक 9 वर्ष, के हैं | तीनो बार-बार अपने पिता से अपनी माँ के बारे में पूछ रहे थे वही केतकी का भाई धीरेंद्र भी अपनी बहन की मौत पर ढहाड़े मार कर ऱो रहा था और अपनी किस्मत को कोस रहा था, उधर अशद के घर मे ईद की खुशियां मातम में बदल गई है और रामकिशन के घर में भी कोहराम मचा हुआ है ।

रिपोर्ट – राहुल राठौर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here