महिला शक्ति शिरोमणि गोल्ड मेडल अवार्ड से डा. कुसुम मोहन को किया गया सम्मानित 

0
148

मैनपुरी(ब्यूरो)- मैनपुरी शहर संस्था सुदिती ग्लोबल एकेडमी मैनपुरी की प्रशासनिक प्रधानाचार्य डा. कुसुम मोहन ने मैनपुरी जनपद का नाम एक बार फिर क्षितिज पटल पर रोशन कर दिया, जब इण्डो-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय समरसता मंच द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए महिला शक्ति शिरोमणि गोल्ड मेडल अवार्ड से सम्मानित किया गया।

देश की राजधानी दिल्ली में आयोजित इस सम्मान समारोह में तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एवं सुदिती ग्लोबल एकेडमी मैनपुरी के वरिष्ठ प्रधानाचार्य डा. राम मोहन, स्पोक पर्सन आॅफ कनाडा एम्बेसी, स्पोक पर्सन आॅफ जार्जिया, नेपाल के उपराजनियक श्री कृष्ण प्रसाद डकाल, नेपाल, वियतनाम, आइसलैण्ड राष्ट्रों के प्रतिनिधियों, अन्तर्राष्ट्रीय समरसता मंच के समन्वयक श्री एम. पी. तोरड़ी, श्री मोहम्मद जीनूर (निदेशक आई. क्यू. आर. ए. लैदर क्रिएशन), श्री राजीव शर्मा (निदेशक प्रीमियर फाउण्डेशन), एडवोकेट डा. धर्मवीर गुप्ता (चीफ एडीटर), श्री मोहम्मद अब्दुल मोइन जयपुरी, श्री अनिल भार्गव (निदेशक ए.बी.बी.ए. कन्सलटेन्ट प्राइवेट लिमिटेड), श्री वेदप्रकाश मित्तल (निदेशक मित्तल मैटल हाउस), श्री प्रवीण चैधरी (निदेशक तरुण प्रिन्टर्स), श्री उमराव जी (चेयरमैन नगरपालिका खेतड़ी), श्री खुशवीर जोजावर (पूर्व विधायक पाली), श्री विवके जैन (निदेशक होटर एम्बेसी), राजनेता सुरेश मीणा (जिलाध्यक्ष मीणा समाज), विक्रम यादव (प्रदेशाध्यक्ष युवा जनता दल) एवं समाज सेवकों श्री सुभाष स्वामी, सरदार मनमोहन सिंह, श्री मोहम्मद अशफाक नकवी, सुनील दत्त शर्मा  की उपस्थिति में डा. कुसुम मोहन को गोल्ड मेडल पुरस्कार से नवाजा गया।

ज्ञातव्य है कि अपनी कार्यशैली एवं कार्यकुशलता के परिणामस्वरूप केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा उन्हें हिन्दी विषय के मूल्यांकन हेतु प्रधानपरीक्षक नियुक्त किया जाता रहा है एवं प्रशासनिक क्षमता और प्रखर मार्गदर्शिका की धनी डा. कुसुम मोहन को केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा विगत कई वर्षों से केन्द्र अधीक्षक तथा सी. बी. एस. ई. की मेडीकल एवं इंजीनियरिंग की परीक्षाओं हेतु पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाता रहा है।

जीवनकाल में अपनी उपलब्धियों के अभिमान से अछूती डा. कुसुम मोहन की जीवन शैली सादा जीवन, उच्च विचार वाली रही है। ममता एवं मानवता की इस प्रतिमूर्ति के दिन का सारा समय किसी न किसी रचनात्मक कार्य से संलग्न रहते गुजरता है, अपने पास पहुँचने वाले हर व्यक्ति की भरसक सहायता को तत्पर डा. कुसुम मोहन समाज के साथ-साथ अपने परिवार के सदस्यों की जरूरतों का व्यक्तिगत् रूप से पूरा ध्यान रखती हैं।श्रीमती मोहन समाज में महिला वर्ग के उत्थान्, षिक्षा, एवं समानता के लिए आरम्भ से ही प्रयत्नषील रही हैं, तो समाज के पिछड़े एवं दबे-कुचले तबके के पुनरोत्थान हेतु भी उन्होंने पूरा प्रयास किया है।

आबादी के 50 प्रतिषत हिस्से को देष की मुख्य धारा में समान अवसर एवं बराबर सम्मान इनके जीवन का दर्षन रहा है। विद्यालय में पढ़ने वाली छात्राओं में आत्मविष्वास, सजगता एवं बौद्धिक अभिक्षमता हेतु वे सदैव ही उनका मार्गदर्षन एवं दिषानिर्देषन करती रहती हैं, एवं विद्यालय में समय-समय पर उनके लिए अनेक शैक्षिक एवं कौशल आधारित गोष्ठियों और कार्यषालाओं का आयोजन कराती रहती हैं।उन्हें वर्ष 2014 में भी अन्तर्राष्ट्रीय समरसता मंच द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला शक्ति शिरोमणि गोल्ड मेडल अवार्ड द्वारा सम्मानित किया गया।

इस सम्मान के लिए सभी शुभेच्छुओं को धन्यवाद देते हुए विद्यालय की प्रशासनिक प्रधानाचार्य डा. कुसुम मोहन ने बताया कि उनकी सफलता के पीछे कोई बड़े-बड़े कार्य नहीं शामिल हैं वल्कि इसके पीछे हर छोटे से छोटे काम को अधिकतम महत्व देने की शैली एवं विद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाओं का हाथ है जिसकी बदौलत आज उन्हें बड़ी सफलताओं के लिए जाना जाता है। आगे उन्होंने बताया कि कोई भी इंसान धन-दौलत की बदौलत कभी भी बड़ा नहीं हो सकता, अपितु इंसान की बड़ी सोच ही उसे बड़ा बनाने एवं विकास के मार्ग पर ले जाने का कार्य करती है।

इस अवसर पर विद्यालय के बच्चों के साथ-साथ विद्यालय के वरिष्ठ प्रधानाचार्य डा. राम मोहन, प्रबन्ध निदेशक श्री लव मोहन, उप प्रधानाचार्य श्री जयशंकर तिवारी, अध्यापक डा. ओमेश जादौन, श्री आर. एस. चैहान, श्री राजेष मौर्या, छात्रावास अधीक्षक श्री जितेन्द्र लोहान, श्री शषांक दुबे, श्री आर. आर. तिवारी, ममता भारद्वाज, शैफाली शुक्ला, अंकिता मिश्रा, श्रृष्टि सिसोदिया आदि ने फूल माला पहनाकर प्रशासनिक प्रधानाचार्य डा. कुसुम मोहन का भव्य स्वागत किया और उन्हें बधाई दी।प्रषासनिक प्रधानाचार्य डा. कुसुम मोहन की इस उपलब्धि पर विद्यालय के समस्त शिक्षकों के साथ-साथ क्षेत्र के अनेक गणमान्य नागरिकों एवं प्रधानाचार्यों ने बधाई दी।इस अवसर पर विद्यालय के षिक्षक श्री ए. पी. साहू, श्रीमती प्रिया दुबे, श्री हरिबिलास, श्रीमती ममता चैहान, मीनू मिश्रा, करिश्मा चंदेल, मंजू मिश्रा, राघवेन्द्र यादव, योगेश कुमार, शिवम् मित्तल, अनीश शुक्ला समेत सभी शिक्षकगण, एडवोकेट संदीप त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट– दीपक शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here