5 साल से बन रहा मिनी सचिवालय, सरकारें आयी और गयी पर मिनी सचिवालय वहीं का वहीं

0
205

WhatsApp Image 2017-01-26 at 2.04.51 PM
प्रतापगढ़ : उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में विकासखंड मांधाता में भ्रष्टाचार का एक और मामला उजागर हुआ है | थाना मान्धाता के गाँव सराय सुजान के प्रधान श्यामलाल मौर्य नए-नए बनाए जा रहे मिनी सचिवालय की पीड़ा ग्राम प्रधान ने स्वयं एक वीडियो बयान में बताया है कि यहां आपको बता दें कि वर्ष 2011-12 में पूर्ववर्ती सरकार बहुजन समाज पार्टी की चल रही थी |

MANDHATA

ग्राम प्रधान ने बताया कि हमारे गांव में मिनी सचिवालय उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से मिला था परंतु यह सचिवालय ठेकेदार एवं समाज कल्याण विभाग की मिलीभगत से बलि को चढ़ गया, प्राप्त जानकारी के अनुसार इस सचिवालय की कीमत लगभग 15 लाख रुपये बताई जा रही है जबकि शासनादेश के अनुसार इस सचिवालय को ग्राम सभा में एक मॉडल के रूप में विकसित कर ग्राम सभा को समर्पित करना था आज जब गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2017 को अखंड भारत न्यूज़ की टीम ग्राम सभा सराय सुजान के उस स्थान पर पहुंची तो मिनी सचिवालय की जगह एक आधी-अधूरी कड़ी हुई बिल्डिंग नज़र आई | जहां इस सचिवालय को इंडिया मारका टू हैंडपंप बाउंड्री वाल शौचालय निर्माण ग्राम विकास अधिकारी के निवास का कमरा यह सब बिल्कुल सही ढंग से निर्माण कर के ग्राम प्रधान सराय सुजान के हाथ में देना था वही आज लगभग 5 वर्ष बीत गए हैं और इस मिनी सचिवालय का कम आज भी अधूरा पड़ा है | ग्राम प्रधान ने बताया कि ठेकेदार भी फरार विभाग भी फरार यदि उन्होंने कुछ करने की भी कोशिश भी करे तो संबंधित ग्राम प्रधान की फरियाद को सुनने वाला कोई नहीं है |

रिपोर्ट – अवनीश कुमार मिश्रा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY