कोशिशों के बाद भी नहीं बन पा रहे आधार कार्ड, अभी भी 50% के पास आधार नहीं

0
234

जहाँ सरकार एक तरफ हर योजना में आधार कार्ड को अनिवार्य करने में कोई कोताही नहीं बरती जा रही है, वहीं आधार कार्ड बनाने वाले NGO सहज जन सेवा केंद्र पर रुपये देने के बाद भी आधार मिलना मुश्किल हो गया है, जिससे मजबूरीवश ग्रामीण वर्षों से केन्द्रों पर ठगी के शिकार बने हुए है जिसके कारण पचास फीसदी बच्चे, बूढ़े, महिलायें आधार बनवाने से वंचित रह गए हैं |

आज किसी भी सरकारी गैरसरकारी संस्था में यदि कोई कार्य है तो सबसे पहले पहचान के रूप में आधार कार्ड माँगा जाता है सरकार भी आधार कार्ड बनवाने में ग्रामीणों की भरपूर मदद करने के लिए शिविर लगा कर निःशुल्क आधार बनवाने का कार्य कर रही है लेकिन अधिकारी कर्मचारी की कृपा के चलते ग्रामीणों को कोई सरकारी योजना का लाभ निःशुल्क मिल ही कहा सकता है ऐसा ही मामला हसनगंज विकास खंड के ग्राम हंसेवा में देखने को मिला जहा सोमवार को आंगनबाडी केंद्र पर जनपद से आई आधार कार्ड बनाने वाली टीम ने आधार बनाने के नाम पर 30 रुपये जमा करने का फरमान जारी कर दिया और जिनके पास पैसे न हुए उन्हें बैरंग वापस कर दिया गया जिससे दर्जनों नॉनिहालो को बिना आधार कार्ड बनवाये ही वापस जाना पड़ा क्यू की उनके पास 30 रुपये जमा करने के लिए नही थे कक्षा 5 में पढ़ने वाली हंसेवा निवासी आराधना पुत्री राजेन्द्र ने बताया की आंगनबाड़ी सेंटर पर आधार कार्ड बनवाने के लिए बुलाया था लेकिन 30 रुपये न होने पर यू ही वापस भेज दिया ।

यही हाल तहसील में जितने भी सहज केंद्र संचालित है वो भी आधार कार्ड बनाने के नाम पर धड़ल्ले से उगाही करने का अड्डा बने हुए है अगर ग्रामीणों की माने तो इन सेंटरों पर नाम संशोधन या पता शुद्धिकरण में 100 से 150 रुपये तक वसूले जाते है वही एक साल पहले शिविर लगा कर बने आधार कार्डो के लिए ग्रामीण आज भी भटक रहे है जिससे मजबूरीवश इंटरनेट से आधार कार्ड निकलवाना पड़ता है जिसकी सेंटर संचालको द्वारा मनमाने रुपये लिए जाते है जब की सरकार के मंशानुरूप आधार कार्ड मुफ़्त में बनता है लेकिन अधिकारियो संरक्षण से आधार कार्ड बनाने वाले NGO बड़े पैमाने पर उगाही कर रहे है जिसे अधिकारी भी जान कर अनजान बने हुए है जब की कुछ दिन पूर्व अछेपुर कीरमिली के ग्रामीणों ने विरोध भी किया था आवागोझा , हिलालमऊ में भी आधार कार्ड के लिए 30 रुपये उगाही की गई , हसन गंज की बाल परियोजना अधिकारी मीना यादव से जानकारी लेने पर बताया की मेरे सज्ञान में नही है आधार कार्ड बनाने वाली टीम जिले से आती है ।

रिपोर्ट – राहुल राठौर

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here