50 हजार बीपीएल परिवारों को सरकार दो-दो गायें देंगी : झारखण्ड

0
936

cows

झारखंड सरकार 50 हजार बीपीएल परिवार की महिलाओं के बीच दो-दो गाय बांटेगी, इस योजना पर सरकार के करीब पांच अरब रुपये खर्च होंगे, सरकार के इस प्रस्ताव पर योजना प्राधिकृत समिति ने अपनी सहमति दे दी है, योजना के तहत 90 फीसदी अनुदान पर गाय उपलब्ध करायी जायेगी. लाभार्थियों को गाय की कीमत का 10 प्रतिशत चुकाना होगा, इस योजना का उद्देश्य बीपीएल परिवारों की आमदनी बढ़ाना और पलायन रोकना है |

लाभार्थियों का चयन ग्राम सभा के माध्यम से किया जायेगा | हालांकि ग्राम सभा की ओर से तैयार सूची पर अंतिम निर्णय उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित समिति करेगी, समिति में उप विकास आयुक्त, गव्य विकास पदाधिकारी और मिल्क फेडरेशन के प्रतिनिधि शामिल होंगे |

गायों की खरीद पशु मेला लगाकर की जायेगी. खरीदते समय ही पशु चिकित्सक से उसकी जांच करायी जायेगी और तीन साल का बीमा कराया जायेगा, बीमा राशि का 10 प्रतिशत लाभार्थियों से लिया जायेगा |

लाभार्थियों की पसंद के आधार पर उन्हें  शंकर, साहीवाल  और सिंधि नस्ल की गायें दी जायेंगी. लाभार्थियों के लिए खरीदी जाने वाली गाय की दूध देने की क्षमता कम से कम 10 लीटर प्रतिदिन होगी. एक गाय की अधिकतम कीमत 45 हजार रुपये होगी, लाभार्थियों को दूसरी गाय छह माह के अंतराल पर दी जायेगी |

सरकार लाभार्थियों को गाय के अलावा शेड बनाने के लिए 10-15 हजार रुपये देगी. इस योजना का लाभ वैसे बीपीएल परिवारों को नहीं दिया जायेगा, जिन्हें राज्य या केंद्र सरकार की किसी योजना के तहत पहले गाय या भैंस दी जा चुकी हो, योजना के तहत हर साल 1000 बीपीएल परिवार की महिलाओं को प्रति महिला दो-दो गाय दी जायेगी |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here