हादसो को दावत दे रहा जर्जर विधुत के तार

0
40

 केराकत/जौनपुर ब्यूरो : विधुत विभाग में जर्जर संस्साधनो के सुधार के लिए केन्द्र व राज्य सरकार ने बड़े पैमाने पर विभिन्न योजनाओ मै करोड़ो रुपये जनपद के लिए दिया है। लेकिन व्यवस्था में सुधार आने के बजाय और बिगड़ती जा रही है। जिससे कि तार खम्भो के टुट कर गिरने से आये दिन दुर्घटनाए होती रहती है। जिम्मेदार लोग इन सबकी जानकारी के बाद भी अनदेखी कर रहे है।

 

केराकत नगर के समीप सरायबिरु ग्राम में वैसे तो नंगे तारो को हटा दिया गया था । लेकिन आधे अधूरे काम करके चलते बने, धिराजी चिकित्सालय सराय बिरु से चौरा ग्राम तक जो विधुत तार गया है। वह काफी जर्जर हो चुका है। आये दिन तार टूट कर गिरते रहते है। जो विधुत विभाग के द्वारा रिपेयर किये जाते है। लेकिन जर्जर तार बदले नही जाते, कही पर तो पेड़ो की मोटी डालें तारों को रगड़ कर काट रही है, लेकिन उसको कटवाने का जिम्मा जिम्मेदार अफसर उठाना नही चाहते है। जो किसी दिन बड़ी दुर्घटना को अन्जाम देगे, तब इस विभाग से सम्बन्धित अधिकारियों की निंद टूटेगी, जबकि इसके पहले विधूत विभाग के द्वारा पूरी मार्केट में नंगे तारो को हटा कर मोटी केबिल लगा दी गयी थी। लेकिन पता नही क्यों अभी तक सरायबिरु का तार बदला नही जा सका |

 

यह हाल है विधुत के तारों का जो की केराकत तहसील से सटा हुआ है। बाकी गाँवो के जर्जर विधूत तारो का अन्दाजा सहजता से लगाया जा सकता है।

रिपोर्ट- अमित कुमार 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY