मनायी गयी समाजवादी चिंतक गौरीशंकर राय की 94वीं जयंती

बलिया(ब्यूरो)- समाजवादी चिंतक पूर्व सांसद गौरीशंकर राय आजीवन समाज के शोषित पीड़ितों के हक हुकूक के लिए संघर्ष कर उन्हें न्याय दिलाने का भरपूर प्रयास करते रहे उनके आदर्शों वह नीतियों पर चलकर ही हम समाज व राष्ट्र को नई दिशा दे सकते हैं और यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

उक्त बातें प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहीं। वह गौरी शंकर राय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय गौरीशंकर पुरम करनई में स्वर्गीय गौरी शंकर राय के 94वी जयंती पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा व गोष्ठी को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कहा कि स्वर्गीय राय का जीवन व उनके कार्य हम सबों को आजीवन प्रेरणा देता रहेगा। राजनीति में अपराधीकरण का वह बराबर विरोध करते रहे। सभा के विशिष्ट अतिथि जननायक चंदशेखर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर जोगिंदर नारायण सिंह ने कहा कि स्वर्गीय राय साहब एक शिक्षाविद भी थे। पुस्तकों का अध्ययन उनकी आदतों में शुमार था। संयुक्त राष्ट्र संघ में पहली बार हिंदी में उनका संबोधन इस बात की गवाही देता है कि वह अपनी मातृभाषा विदेश से कितना लगाव रखते थे।

संगोष्ठी को डॉक्टर जनार्दन राय, डॉक्टर गणेश कुमार पाठक, धीरेंद्र श्रीवास्तव, सांसद रविंद्र कुशवाहा, परमात्मा नंद पांडे, रमाशंकर तिवारी, माधव प्रसाद गुप्ता आदि ने भी संबोधित किया। इसके पूर्व महाविद्यालय के निदेशक डॉक्टर श्री राम राय ने समस्त अतिथियों का स्वागत किया। संस्थान के सचिव श्रीकुमार राय ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। प्रारंभ में कुलपति योगेंद्र नारायण सिंह ने दीप प्रज्वलित करने के बाद स्वर्गीय राय के चित्र पर माल्यार्पण कर संगोष्ठी का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर श्री राय के पुत्र पारसनाथ राय, वीरेंद्र राय, अजय शंकर राय सहित अन्य परिजनों व प्रबुद्ध जनों ने स्वर्गीय राय के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके स्मृतियों को नमन किया। इस मौके पर गिरजा शंकर राय, प्रधान हरिशंकर यादव, पूर्व प्रधान रविंद्र राजभवन, माधव प्रसाद गुप्ता आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता सेनानी रामविचार पान्डेय तथा संचालन धनंजय राय ने किया। अंत मे महाविद्यालय के प्रचार एसपी सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया ।

विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित हुई छात्राएं-
इस मौके पर महाविद्यालय के प्रत्येक कक्षाओं की छात्राओं को विभिन्न पुरस्कारों को सम्मान से नवाजा गया। बीए प्रथम वर्ष की छात्रा शशि राय को महादेव राय स्मृति चिन्ह, बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा कल्पना यादव को रमाशंकर राय स्मृति चिन्ह, बीए तृतीय वर्ष की छात्रा मीरा वर्मा को शिव शंकर राय स्मृति चिन्ह, बीएससी प्रथम वर्ष की नेहा गुप्ता को उमाशंकर राज स्मृति चिन्ह, बीएससी द्वितीय की सपना गुप्ता को हरिशंकर राय स्मृति चिन्ह, बीएससी तृतीय की प्रज्ञा पांडेय को करुणा करण तिवारी स्मृति चिन्ह व गृह विज्ञान की साधना चौरसिया को रामदुलारी राय विशिष्ट पदक से सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here