कश्मीर के 95 फीसदी लोग शांति चाहते हैं, कश्मीर के विकास से ही देश का विकास संभव : राजनाथ सिंह

0
2546

Union-Home-Minister-Rajnath-Singh
अपने दो दिन के कश्मीर दौरे पर गए गृहमंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने श्रीनगर में गुरुवार को कश्मीर हिंसा और प्रदर्शन को लेकर साझा प्रेस कांफ्रेंस की, अपनी इस कांफ्रेंस में कश्मीर के लोगों से शान्ति बहाली की अपील करते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा जो लोग भी संविधान के दायरे में रहकर कश्मीरीयत, जम्हूरियत और इंसानियत का समर्थन करते हैं हम उन सभी का स्वागत करते हैं, हम सभी से बात करने को तैयार हैं लेकिन सभी को कश्मीर की पीड़ा समझनी होगी |

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान राजनाथ सिंह ने कहा कि बुधवार से अबतक में मई करीब 300 लोगों से मुलाकात कर चूका हूँ, सभी एकमत में हैं और सभी कश्मीर में अमन और शांति चाहते हैं, कश्मीर में हालातों के खराब होने पर सिर्फ कश्मीर ही नहीं बल्कि पूरे देश के लोग आहात होते हैं |

हम चाहते हैं कि कश्मीर विकास और सम्पन्नता की ओर बढ़े, नाकि हिंसा और आतंक की ओर, हम कश्मीर के युवाओं के हाँथ में कलम, किताब और कंप्यूटर देखना चाहते हैं, पत्थर, बंदूके और ग्रेनेड नहीं, वे लोग जो इन युवाओं के हाँथ में किताबों और कंप्यूटर की जगह पत्थर और बंदूके पकड़ा रहे हैं वे इनके भविष्य की गारंटी ले सकते हैं |

मै कश्मीर के लोगों से अपील करता हूँ कि हमारे नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ ना करें, कश्मीर में हिंसा और नफरत फिलाने वालों की पहचान कर उनका बहिष्कार करें , अगर कोई नौजवान पत्थर उठाता है तो उसे समझाने की कोशिश करें |

कश्मीर के दर्द पर हम क्या महसूस करते हैं यह समझने की ज़रुरत है, कश्मीर में जो जवान तैनात वो आपकी सुरक्षा के लिए है और उन्हें अपना ही भाई समझें, और विपदा के समय सेना द्वारा की जाने वाली मेहनत को भी याद करें, जल्द ही हम पैलेट गन का विकल्प लेकर आयेंगे, हम गृहमंत्रालय से एक नोडल ऑफिसर नियुक्त करेंगे जो सीधे यहाँ के लोगों के संपर्क में रहेगा |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here