गैस रिफलिंग के दौरान वैन में लगी आग

0
56

औरैया- जिला प्रशासन, पुलिस, एआरटीओ सभी जानबूझकर घरेलू गैस से दौड़ने वाले वाहनों के प्रति अनजान बने हुए हैं। जबकि इस तरह के वाहन कभी भी किसी बड़ी त्रासदी का कारण बन सकते हैं। रविवार को सुबह ऐसा ही एक हादसा हुआ जब शहर के भारतीय विद्यालय के निकट एक मारूती वैन में रसोई गैस भरने के दौरान आग लग गयी। आग लगने से वहां अफरा-तफरी मच गयी। देखते-देखते पूरी वैन जलकर राख हो गयी। फायर बिग्रेड ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाई। जिससे अन्य कोई आगजनी का शिकार नहीं हुआ।

जानकारी के अनुसार शहर के भारतीय विद्यालय के पास दिबियापुर रोड पर दीपू कटियार का मकान है। रविवार की सुबह 9 बजे भारतीय विद्यालय के समीप वह अपनी कार संख्या यूपी 79 डी 5483 में घरेलू गैस भर रहे थे तभी अचानक उसमें आग लग गयी। देखते हुी देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। पूरी कार आग के गोले में तब्दील हो गयी। जिससे वहां लोग भागने लगे और अफरा तफरी मच गयी। सूचना पर आयी फायर बिग्रेड की गाडि़यों ने पानी की धार व गैस छोड़कर आग पर काबू पाया। जिससे एक बड़ा हादसा टल गया। लेकिन वैन पूरी तरह से जलकर खाक हो गयी।

उल्लेखनीय है कि इस समय शहर में पैट्रोल से चलने वाली गाडि़यों में लोग अनाधिकृत रूप से गैस किट रखवाये हुए हैं। जिसमें वह रसोई गैस सिलेण्डर से रिफलिंग करते हैं और इसी रसोई गैस से यह वाहन फर्राटा भरतें हैं। गैस से चलने वाले वाहनों में आये दिन आगजनी की घटनायें हो रही हैं और तो और स्कूली बच्चे भी ऐसी ही गैस से चलने वाली गाडि़यों से ढोये जाते हैं। इसके बावजूद जिला प्रशासन इन पर कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है।

रिपोर्ट- मनोज कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY