युवक ने फांसी लगा दी जान

0
57

महोबा- मोहन (40) और हरदास अहिवार निवासी गंज ने अन्ना पशुओं के खेत को चर जाने से खेत में कुछ न होने की वजह से गांव वालों का 30,000 हजार कर्ज था और तीन छोटे बच्चोे के परिवार का पेट न किस तरह चलाये| उसी के चलते किसान मोहन ने लगायी फांसी। दो बीघा खेती में कुछ नहीं हुआ तीनो बच्चों की पढ़ाई और घर का खर्च कैसे चलाता और कर्ज भी था| इससे परेशान हो उसने फाँसी लगा जान दे दी। तीन बच्चे (पुष्पेन्द्र 9वर्ष, पवन 6वर्ष, ओम 4वर्ष) है। पुलिस ने पहुंच कर शव का पन्चनामा भर पोस्टमार्टम के लिऐ भेज दिया।

रिपोर्ट- प्रदीप मिश्रा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY