फिर हुई मौत, नहीं मिला कोई डाक्टर धनपतगंज सा स्वास्थ्यकेन्द्र पर

0
186

सुल्तानपुर (ब्यूरो)- धनपतगंज निवासी रामदेव गुप्ता उम्र 65 वर्ष की अचानक तवियत खराब हुई, परिवारीजन एवं आसपास के लोग, आनन् फानन में लेकर धंपतगज सा स्वाथ्यकेद्र पहुचे। पता किया तो सारे डाक्टर गायब। सबके कमरे में ताले जडे मिले। भागदौड़ के बीच फार्मासिस्ट मौर्या को बुलाया ।आनेपर जबतक मरीज को देखते तबतक मरीज रामदेव की दर्दनाक मृत्यु हो गयी थी।

यह है स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारी एवं कर्तव्य पालन का एक नमूना ।मानवीय संबेदनाओं को तार -2 कर रहे इन डाक्टरों को,जिले के आला धिकारियों की खुली छूट मिल गयी है जिससे इनकी लापरवाही के चलते दो वर्षों में लगभग आधा दर्जन लोगों कीजान जा चुकी है।
रिपोर्ट- दीपक मिश्रा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here