बिहार का निवासी था थरवई में मारा गया कुनबा

0
109
प्रतीकात्मक फोटो

इलाहाबाद : थरवई थाना क्षेत्र स्थित पड़िला महादेव मंदिर के निकट हुए तिहरे हत्याकांड में मृतकों की पहचान हो गई है। मारे गए बुजुर्ग दंपती बिहार के बक्सर जिले के निवासी थी साथ में तीसरी मृतका उनकी पोती थी। गुरुवार को थरवई थाने पहुंचे बिहार निवासी परिजनों ने मृतकों की शिनाख्त बर्तन और गहने देखकर की। इसके बाद राख व दूसरा सामान लेकर वापस घर चले गए।

दिव्यांग बुजुर्ग और उसकी पत्‍‌नी मूल रूप से बिहार के बक्सर जिले के रोहतारन थाना क्षेत्र स्थित बक्सर किला गांव के निवासी थे। उसी गांव में दिव्यांग बुजुर्ग की 20 वर्षीय पोती भी रहती थी। ये तीनों पिछले पांच साल से पड़िला महादेव मंदिर पर भिक्षावृत्ति करने व गुब्बारा बेचने के मकसद से आते थे। हालांकि यह दंपती करीब तीन साल से राजस्थान के अलवर में रह रहे थे।

थरवई थाने पहुंचे दिव्यांग बुजुर्ग के भाई और युवती की बहनों ने पुलिस को बताया कि सभी लोग 20 फरवरी को बिहार से पड़िला महादेव मंदिर के लिए निकले थे। युवती की शादी रोहतारन इलाके के झोपड़पट्टी में रहने वाले एक शख्स से साल भर पहले हुई थी। हर साल मेला खत्म होने के पांच-छह दिन बाद घर आ जाते थे। लेकिन इस बार वापस नहीं लौटे तो जानकारी की गई। अखबार में प्रकाशित समाचारों के जरिए उन्हें घटना की खबर मिली तो थरवई थाने और फिर घटना स्थल पर पहुंचे। तीन लोगों की मौत से परिवार में मातम छा गया।

बता दें कि यहां दिव्यांग बुजुर्ग को जिंदा जला दिया गया था और उसकी पत्‍‌नी व पोती की हत्या के बाद कातिलों ने आग के हवाले कर दिया था। हत्यारों ने युवती के साथ दुष्कर्म भी किया था।

सभी आरोपी ट्रेस, गिरफ्तारी नहीं :
ब्लाइंड मर्डर केस की मिस्ट्री सुलझने के साथ ही पुलिस ने आरोपियों को भी ट्रेस कर लिया है। पता चला है कि दो आरोपी उसी गांव के जबकि दो बहमलपुर के निवासी हैं। पुलिस को आरोपियों का नाम और पता मिल चुका है, लेकिन गिरफ्तार नहीं कर सकी है। उनकी तलाश में दबिश भी दी जा रही।

मुन्ना लाल(एसपी गंगापार)-“थरवई में मारे गए लोगों की पहचान परिजनों ने कर ली है। आरोपियों को भी ट्रेस आउट कर लिया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम दबिश दे रही है। जल्द ही पूरे मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।”

रिपोर्ट- डा आर आर पाण्डेय

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here