आखिर क्यों नहीं लिखी गयी पीड़ित की रिपोर्ट

0
31

सरेनी-रायबरेली (ब्यूरो)- सरेनी थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक नाबालिक लड़की से दुष्कर्म का प्रयास किया गया। जिसमें पीड़ित परिवार ने क्षेत्रीय थाने में कई बार एप्लीकेशन दिया पर कोई सुनवाई नहीं की गई और पीड़िता का पुलिस ने नहीं दर्ज किया मुकदमा। आज मां बेटी ने लगाई पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार। लड़की के गले में आरोपी के नाखूनों के निशान, फिर भी पुलिस ने नहीं कराया मेडिकल जांच।

पीड़ित का कहना है कि गांव के ही एक युवक (35) काफी दिनों से घर के सामने से चक्कर काटता रहता है एक दिन दरवाजा खुला देखकर वह घर में घुस गया जहां लड़की अकेले काम कर रही थी लड़की की चीख पुकार सुनकर परिवार के लोग व पड़ोस के लोग आ गए जिससे लोग लड़की की अस्मत बचाई जा सकी लोगों का कहना है कि युवक शराब पीकर आए दिन ऐसी हरकत किया करता है जिसकी शिकायत पीड़ित ने स्थानीय थाने में की पर पुलिस ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया आखिर योगी सरकार के लाख प्रयास क्यों हो रहे थानों पर विफल। आखिर कब होगी थानों पर पीड़ितों की सुनवाई। इसीलिए पुलिस कप्तान के दरबार में फरियादियो की भरमार लगी हुई।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY