PM मोदी के डिग्री मामले में अब आम आदमी पार्टी DU को भी बताया झूठा

0
206

दिल्ली- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की डिग्री के मामले में विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है बल्कि इस मुद्दे पर अब एक और पक्ष दिल्ली विश्वविद्यालय पर भी आम आदमी पार्टी ने हमला बोला है | आम आदमी पार्टी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से सवाल किया है कि क्या 1978 में दिल्ली यूनिवर्सिटी के पास कंप्यूटर थे ? प्रधानमंत्री श्री मोदी की डिग्री के मामले में पूरी तरह से हाथ धोकर पीछे पड़ चुकी अब आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विश्वविद्यालय के ऊपर निशाना साधा है |

बीजेपी के द्वारा दिखाई गयी डिग्री फर्जी है –
आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर से अपने दावे को दोहराते हुए तर्क दिया है कि कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की डिग्री बिलकुल फर्जी है, आप नेता आशुतोष ने कहा है कि क्योंकि वर्ष 1978 में पास हुए प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री का जो लोगों है वो आधुनिक है जबकि जो डिग्रियां बाकी लोगों को दी गयी है उनकी डिग्रियां साधारण फॉण्ट में छपी हुई थी | इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री में अंकों को छापा गया है जबकि उनके साथ के उसी वर्ष में पास हुए सभी लोगों की डिग्रियों में सब कुछ हाथ से लिखा गया है |

आप ने कहा दिल्ली विश्वविद्यालय झूठ बोल रहा है –
आम आदमी पार्टी ने अपने दावे को सही बताते और दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी दावों को झूठ बताते हुए महाराष्ट्र के सामाजिक कार्यकर्ता अनिल गलगली द्वारा सूचना के अधिकार के तहत युनिवेर्सिटी से मिले जवाब का हवाल देते हुए कहा है कि, “जब गलगली ने RTI से पुछा था कि वर्ष 1978 में पढ़ें और पास हुए लोगों के नामों की उन्हें सूची चाहिए इस पर विश्वविद्यालय की तरफ जवाब दिया गया था कि वे 3-4 दशक पुराने रिकार्ड अपने पास नहीं रखते है | उन्होंने तर्क देते हुए कहा है कि लेकिन कल यूनिवर्सिटी की तरफ से कहा गया है कि उन्होंने अपने दस्तावेजों को सत्यापित करने के बाद यह कहा है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की डिग्री सही है |

तो अब सवाल यह उठता है कि या तो दिल्ली विश्वविद्यालय अनिल गलगली के मामले में झूठ बोल रही थी या तो अब बोल रही है |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY