आंगनवाडी केन्द्र बनवाने में पीले ईंट का किया जा रहा है प्रयोग

0
56

 

ऊंचाहार (ब्यूरो)- जहां प्रदेश की सरकार घटिया सामग्री का प्रयोग करने के लिये लिखित से लेकर बयान तक दे रही है वहीं खाऊ कमाऊ की चाल चलन मे रोक न लगने पर ही रोहनिया ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय कमालपुर मे बन रहे आंगनवाडी मे जमकर घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है।

हम बात कर रहे है वीवीआईपी जिला रायबरेली के अन्तर्गत आने वाले ब्लाक रोहनिया के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय कमालपुर मे बन रहे नवनिर्मित आंगनबाडी भवन की | इस भवन को लाखों की लागत से बनवाया जा रहा है कि यहां पर नौनिहाल मासूम बच्चों से लेकर गर्भवती महिला व किशोरी युवती तक आयेंगी जायेंगी लेकिन भवन मे सीमेन्ट की जगह राख का प्रयोग किया जा रहा है और नंबर एक की जगह पीले घटिया इंर्ट का प्रयोग व निम्न कोटि का सरिया वह भी मानक से कम प्रयोग किया जा रहा है।

जिसके बीम व नीव की भराई तक मानक से कम करवाया गया है। जिसकी लिखित शिकायत ग्रामीणो के द्वारा डीएम से किया गया। जिस मामले मे डीएम ने गंभीरता से लेते हुए एसडीएम को जांच सौंपी है। मामले मे एसडीएम मदन कुमार ने बताया कि नायब तहसीलदार के नेतृत्व मे तीन सदस्यी प्रषासनिक जांच टीम गठित कर दी है।

ग्रामीणों ने घटिया निर्माण का अरोप जो लगाया गया है जिसको मानकर ये टीम द्वारा जांच कराके एक सप्ताह मे सूचित करने के लिये कहा गया है। उधर जांच टीम के नायबत हसीलदार रामदेव ने बताया कि ग्रामीणों की षिकायत पर भवन के निर्माण मे गुणवत्ता का ध्यान नही दिया जा रहा है जिसको लेकर सभी बिन्दुओं पर जांच कर लिया गया है जिसकी रिपोर्ट जल्द एसडीएम के माध्यम से डीएम को भेज दिया जायेगा जिसके बाद निर्माण करने वाले ठेकेदार के विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही होगी।

 

रिपोर्ट- अंकित गुप्ता 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY