लो आ गई प्रभु की पहली बिहार के लिए आस्था सर्किट ट्रेन वाया- क्यूल आसनसोल भुनेश्वर

0
210

लखीसराय– बिहार के लोगों के लिए रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा नई सौगात दक्षिण भारत की धार्मिक स्थलों की यात्रा कराने के लिए दरभंगा से आस्था सर्किट ट्रेन चलाने की घोषणा की है| यह बिहार की पहली आस्था सर्किट ट्रेन है जो कुल 9 कोच वाली स्लीपर क्लास होगी| जिसमें कुल 550 यात्री यात्रा कर सकेंगे| यह ट्रेन दरभंगा से 20 मार्च को सुबह में खुलेगी| इस ट्रेन का ठहराव समस्तीपुर मुजफ्फरपुर पाटलीपुत्र क्यूल जंक्शन आसनसोल भुवनेश्वर में की गई | यह ट्रेन 10 दिन व 11 रात के लिए तिरुपति के बालाजी दर्शन मदुरई का मीनाक्षी मंदिर कन्याकुमारी के कन्याकुमारी टेंपल व विवेकानंद रॉक त्रिवेंद्रम के पदनाभरवामी टेंपल का दर्शन करा के 30 मार्च को वापस दरभंगा आ जाएगी|

इस ट्रेन से यात्रा करने के लिए प्रति व्यक्ति 10.192 रुपए देना होगा और यात्रियों को रेलवे की तरफ से रहने के लिए धर्मशाला रात्रि विश्राम शाकाहारी भोजन लोकल यात्रा कराने के लिए नॉन AC बस एवं सुरक्षा की व्यवस्था की गई है| ट्रेन की टिकट बुकिंग आईआरसीटीसी की वेबसाइट और अधिकृत एजेंट से की जा सकती है| यह ट्रेन रात में चलेगी और दिन में तीर्थ स्थलों की यात्रा कराएगी|

रिपोर्ट- रजनीश कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here