आस्था के लिए घोसी में उमड़ा जन सैलाब

0
107


मऊ (ब्यूरो)- कार्तिक पूर्णिमा के पावन अवसर पर घोसी नगर के नरोखर पोखरा व सीताकुंड पर के परिसर में शुक्रवार को देर शाम देव दीपावली का भव्य आयोजन किया गया। कार्यक्रम में काफी संख्या में पहुंचे नागरिकों ने दीप जलाकर सौभाग्य की कामना की। हजारो से ज्यादा टिमटिमाते दीपों का नजारा एक अलग छटा बिखेर रहा था।

कार्तिक पूर्णिमा को कई जगह देव दीपावली के नाम से भी जाना जाता है। इसके अलावा कार्तिक पूर्णिमा को त्रिपुरारी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। धर्म ग्रंथों के अनुसार इसी दिन भगवान शिव ने तारकाक्ष, कमलाक्ष व विद्युन्माली के त्रिपुरों का नाश किया था। त्रिपुरों का नाश करने के कारण ही भगवान शिव का एक नाम त्रिपुरारी भी प्रसिद्ध है। इस दिन गंगा-स्नान व दीपदान का विशेष महत्व है। इसी पूर्णिमा के भगवान विष्णु का मत्स्यावतार हुआ था। कई और तीर्थ स्थानों में इसे बड़े पैमाने पर मनाया जाता है।

देव दीपावली पर घोसी नगर स्थित नरोखर पोखरा पर 11 हज़ार दीपों से जगमगा उठा तो वही स्थानीय बच्चो ने रंगोली बनाकर वाहवाही लूटी। इसी क्रम में घोसी नगर के सीताकुंड पर भी स्थानीय लोगो ने 11 हज़ार दीपक जलाकर मां शीतला परिसर को रौशनी बिखरे दी। वहां पर भी स्थानीयों बच्चियों द्वारा रंगोली बनाया गया था जिसपर बच्चियों ने दीपक जलाकर उस रंगोली आलेखन में चार चांद लगा दिया।

रिपोर्ट- ऋषि राय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here