भ्रष्टाचार के मामले में केजरीवाल सरकार के लोक निर्माण विभाग के दफ्तर पर छापा |

0
223
manish-sisodia_759
दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर एक के बाद एक आरोप लगते जा रहे हैं, बुद्धवार को दिल्ली सरकार पर एक और संकट आन पड़ा इस बार भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते ने दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग (PWD) के दफ्तर पर छापा मारा | ACB ने यह छापा BRT कॉरिडोर तोड़ने के मामले में हुए कथित भ्रष्टाचार मामले में मारा है |
सोमवार को बीजेपी नेता विवेक गर्ग और विधायक ओम प्रकाश शर्मा ने ACB कार्यालय में BRT कॉरिडोर तोड़ने में भ्रष्टाचार किये जाने की शिकायत की थी, बीजेपी नेताओं ने आरोप लगाया है कि आप सरकार ने BRT कॉरिडोर तोड़ने में करीब 11 करोड़ रुपये का खर्च दिखाया है जबकि इस कॉरिडोर में लगा सामन ही इतने मूल्य का था कि सरकार को ठेकेदार को पैसे देने नहीं बल्कि ठेकेदार से पैसे लेने चाहिए थे, यह सारा हेरफेर सरकार और ठेकेदार की मिलीभगत से हुआ है |
दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कुख्यात BRT में पहला हथौड़ा मैंने मारा था, जनता की मांग को पूरा करने के लिए हम फख्र से जेल जाने को तैयार हैं।
इसे भी पढ़ें – बुरे फंसे केजरीवाल, दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा, ‘ठुल्ला’ शब्द का मतलब समझाइये
सिसोदिया ने तल्ख अंदाज में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘जनता के तमाचे को नहीं समझते, अदालत के तमाचे को नहीं समझते, हिम्मत है तो हम सबको जेल भेज दीजिए मोदी जी! फिर भी सच को रोक नहीं सकेंगे।’
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY