किसान बन्धुओं की समस्याओं का हो त्वरित निस्तारण,कर सकतें है सीडीओ से सीधे शिकायत

0
66

प्रतापगढ़ (ब्यूरों)- आज दिनांक 17 मई को मुख्य विकास अधिकारी श्री राजकमल यादव की अध्यक्षता में किसान दिवस की बैठक विकास भवन सभागार में किसान बन्धुओं की उपस्थिति में सम्पन्न हुई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने किसान दिवस की बैठक में किसान बन्धुओं का स्वागत एवं समस्त लोगों को धन्यवाद देते हुये कहा कि जो भी समस्या खेती, उद्यान, सिंचाई विभाग से सम्बन्धित होगी उस समस्या का निस्तारण त्वरित गति से किया जायेगा।

किसान बन्धुओं की समस्याओं के लिये यह कार्यालय हर स्तर का सहयोग करने के लिये तैयार रहेगा। किसी भी विभाग से सम्बन्धित शिकायत के लिये सम्बन्धित पटल पर सम्पर्क करे। सम्पर्क करने के बावजूद यदि समस्या का निस्तारण नही होता तो मुझसे व्यक्तिगत सम्पर्क कर शिकायत से अवगत कराये जिसके लिये उन्होने सभी किसान बन्धुओं को अपना सी0यू0जी0 नम्बर-9454465541 भी उपलब्ध कराया।

उन्होने मौके पर उपस्थित किसान भाईयों की समस्याओं को सुना और सम्बन्धित अधिकारियों को तत्काल निराकरण के लिये आदेशित किया। विभाग से सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि अगली बैठक में एक कम्प्यूटर आपरेटर उपलब्ध होना चाहिये जो कि तत्काल किसान बन्धुओं का आनलाइन फार्म या अन्य समस्याओं का निस्तारण मौके पर ही कर दिया जाये।

उन्होने बैठक में यह भी बताया कि प्रधानमंत्री सिंचाई योजना एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है इस योजना का लाभ किसान भाईयों से अधिक से अधिक उपलब्ध कराया जायेगा। गर्मी के मौसम में जानवरों के पानी पीने की व्यवस्था तालाब, पोखरांं और नहरों द्वारा किया जायेगा जिससे आम जनमानस को इस परेशानी का सामना न करना पड़े।

आज की बैठक में जिला कृषि अधिकारी श्री डी0पी0 सिंह ने किसान भाईयों को बताया कि खरीफ फसल और मूंग प्रजाति के बीज तथा हाइब्रिड के बीज भी गोदाम पर उपलब्ध है जिस पर अनुदान की व्यवस्था है। उन्होने किसान भाईयों को यह बताया कि कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग की किसी भी योजना का लाभ लेने के लिये आनलाइन रजिस्ट्रेशन होना अनिवार्य है।

उन्होने यह भी बताया कि उर्वरक भी पर्याप्त मात्रा में गुणवत्ता पूर्वक उपलब्ध है, उर्वरक प्राप्त करने के लिये किसान भाईयों को गोदाम पर आधार कार्ड लेकर जायेगें तभी उर्वरक की सुविधा का लाभ प्राप्त होगा। उन्होने किसान भाईयों को फसल अवशेष जलाने पर 5000 रू0 से 15000 रू0 तक का जुर्माने के दण्ड का प्राविधान है। श्री सिंह ने बताया कि फसल के अवशेष को जलाने पर खेत की गुणवत्ता समाप्त हो जाती है जिससे उत्पादन में भारी कमी आ जाती है।

किसान दिवस की बैठक में जिला उद्यान अधिकारी श्री रणविजय सिंह ने किसान भाईयों को जानकारी देते हुये कहा कि आम, आंवला के पौधे उपलब्ध है और केले की खेती पर अनुदान की व्यवस्था है किन्तु इस योजना का लाभ उन्हीं किसान भाईयों को मिलेगा जिसका आनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा।

इस लिये समस्त किसान भाईयों से अपील है कि अपना आनलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य रूप से अवश्य करवा लें जिससे उक्त योजनाओं का लाभ किसान भाईयों को मिल सके। आज की बैठक में उप कृषि निदेशक श्री अरविन्द सिंह, जिला कृषि रक्षा अधिकारी श्री अमित जायसवाल एवं अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारी और किसान भाई भी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-विश्व दीपक त्रिपाठी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here