पुलिस की सुस्ती का फायदा उठा रहे दोहरे हत्याकांड के आरोपी

0
247
प्रतीकात्मक फोटो 

सुलतानपुर : कुड़वार थाना क्षेत्र के नौगवां सरायतासी में गत दस अप्रैल को हुए दोहरे हत्याकांड के आरोपी पुलिस से दो कदम आगे है। विवेचक के सबूत जुटाने के आधे-अधूरे होमवर्क व सुस्ती का पूरा लाभ हत्यारोपी उठाने की तैयारी में हैं। कहना अतिश्योक्ति न होगा कि जल्द ही मृतक प्रेमी की ओर से प्रेमिका को भेजे गए तकरार वाले मोबाइल संदेश को आधार बनाकर आरोपी अरेस्ट स्टे की तैयारी में है।

घटना को पांच दिन बीत चुके हैं, लेकिन कुड़वार पुलिस ने अधूरे सबूत ही जुटाये है। सूत्रों की मानें तो बचे हुए मोबाइल संदेश के सबूत हत्यारोपियों के पास मौजूद है।जल्द ही लखनऊ के वादकारी भवन में अरेस्ट स्टे के लिए पूरी फाइल रखी जायेगी। वकालतनामे के लिए अधिवक्ता का चयन भी हो चुका है। मृतक प्रेमी श्याम बहादुर द्वारा पूर्व में ज्योति को भेजे गए तकरार और धमकी भरे मैसेज को स्टे का आधार बनाया गया है। वहीं ज्योति की ओर से भेजे गए संदेश के अंश को एडिट कर हटाया गया है। पता चला है कि दोनों पछ से एक दूसरे के संदेश के तारतम्य को तोड़ा गया है। चौंकाने वाला पहलू यह है कि पूरे फाइल में ही पन्नों की संख्या 50 के पार पहुंची है।वहीं कुड़वार थाने की पुलिस डबल मर्डर के संगीन केस में अभी तक लकीर की फकीर साबित हुई है। सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर कैसे जो सबूत विवेचक के कब्जे में होने चाहिए उनके प्रिंट आउट आरोपियों के पास पहुंचे। वहीं श्याम के घर लैपटॉप में मिले”shyam”नाम से फोल्डर में ज्योति और उसके अधूरे प्रेम की दास्तां कम से कम पुलिस के हाथ सुरक्षित लगे।बहरहाल कहना अतिश्योक्ति ना होगा कि खुलासे में अभी तक माहिर माने जानी वाली जिले की पुलिस के लिये कहीं बदनुमा अपवाद न बन जाये|

रिपोर्ट- दीपक मिश्रा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here