पुलिस महानिरीक्षक ने अधिकारियों से ली घटनाओं की जानकारी

0
139


समस्तीपुर : ताजपुर प्रखंड के गुनाई बसही स्थित नून नदी पर बन रहे पुल के बेस कैंप पर नक्सलियों द्वारा किए गए बमबारी के पांचवें दिन भी वहां काम-काज शुरू नहीं हुआ है, घटना को लेकर पुल निर्माण कंपनी के कर्मियो सहित आम लोगो के बीच अभी भी दहशत का माहौल बना हुआ है, हालांकि घटना के बाद यहां काफी संख्या में पुलिस कर्मियो को प्रतिनियुक्त कर चौकसी बढ़ा दी गई है |

दरभंगा प्रमंडल के पुलिस महानिरीक्षक उमाशंकर सुधांशु भी समस्तीपुर पहुंचकर बमबारी एवं विधायक विद्यासागर निषाद से रंगदारी मांगने की घटना की जानकारी पुलिस अधिकारियो से ली. स्थानीय अतिथि भवन में आइजी ने एसपी, सदर डीएसपी और अन्य पुलिस पदाधिकारियों को इस घटना को लेकर कई निर्देश भी दिया, दूसरी ओर थानाध्यक्ष ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल और आस-पास के क्षेत्र का जायजा लिया, स्थानीय विधायक भी उनके साथ रहे, घटना को लेकर थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है, लेकिन, घटना को लेकर अभी भी वहां कार्यरत कर्मी वापस नहीं लौटे हैं. पुल के बेस कैंप पर केवल तीन-चार मुंशी ही हैं | थानाध्यक्ष का दावा है कि जल्द ही वहां कार्य शुरू कर दिया जाएगा, फिलहाल वहां की स्थित यथावत है

ग्रामीण कार्य विभाग के द्वारा नून नदी पर 5 करोड़ 28 लाख की लागत से पुल निर्माण का कार्य कराया जा रहा है. ओम कंस्ट्रक्शन द्वारा कराये जा रहे कार्य को लेकर पूर्व में भी नक्सलियों ने लेवी की मांग की थी, उसकी प्राथमिकी भी थाने में दर्ज करायी गई थी. इधर, पांच दिन पूर्व भी लेवी नहीं मिलने को लेकर वहां बममारी की थी और कर्मियों के साथ मारपीट की थी |

जाते वक्त छोड़ गए थे पर्चा

लेवी नहीं मिलने से नाराज नक्सलियों न बमबारी के बाद वहां लेवी नहीं देने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी संबंधी पर्चा भी छोड़ दिया था, साथ ही एक अधकटी नोट भी वहा दी थी, उसी नोट का अधकटी लाने वाले को लेवी का रकम देने का निर्देश दिया था |

रिपोर्ट – रंजीत कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here