रोगों का शीघ्र निदान करती एक्यूप्रेषर चिकित्सा: डा. चन्द्रवंशी

0
65

रायबरेली (ब्यूरो)- रिफार्म क्लब परिसर में चल रहे एक्यूप्रेषर चिकित्सा षिविर में एक विचार गोष्ठी का आयोजन कर रोगों के निदान एवं रोकथाम तथा निरोग रहने के टिप्स बताए गए। भारतीय एक्यूप्रेषर संस्थान के निदेषक डा. एपी चन्द्रवंषी ने कहा रोगों का शीघ्र निदान करती है एक्यूप्रेषर चिकित्सा। साटिका, सर्वाइकल एवं अनेक जटिल रोगों को सरल विधि से उपचार कर लोग निदान पा सकते हैं।

उन्होंने आयुर्वेद एक्यूप्रेषर पर भी विस्तार से प्रकाष डाला और मेथी, मटर, चुम्बक से लोगों को नियमित इलाज करने एवं निरोग रहने के टिप्स भी बताए।

इस अवसर पर षिविर के प्रभारी डा. भगवानदीन यादव ने कार्यक्रम में सभी का स्वागत करते हुए कहा कि भारत की प्राचीन चिकित्सा पद्यति है एक्यूप्रेषर, जिसमें शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को निकाल करके रोगों को ठीक करती है और शरीर स्वस्थ एवं निरोग हो जाता है। डा. यादव ने कहा कि इस चिकित्सा के द्वारा गठिया, सर्वाइकल, मोटापा, कमर दर्द, जोड़ों का दर्द, बवासीर, लिकोरिया, मासिक धर्म, बालों का झड़ना, आंख-कान, साइनस, एनीमिया, अर्थराइटिस आदि रोगों का उपचार किया जाता है।

डा. सिद्धनाथ यादव, गायत्री परिवार के पितम्बर आरके शर्मा, अनुज कुमार, षिवसकल यादव, संजू चन्द्रवंषी आदि ने विस्तार से प्रकाष डाला। इस अवसर पर डा. सिद्धनाथ यादव ने कहा शीघ्र ही एक्यूप्रेषर चिकित्सा का एक जागरुकता अभियान चलाया जाएगा जिससे एक्यूप्रेषर ज्योति जन-जन तक फैले। गोष्ठी में आए सभी अतिथियों का स्वागत एवं आभार अनुज कुमार यादव ने किया। इस अवसर पर ममता गुप्ता, तसमीन, गिरिजा शंकर, ममता सिंह, उमा सिंह, सतांव की पूर्व ब्लाक प्रमुख, जितेन्द्र कुमार, दीपू यादव आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट- राजेश यादव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY