आदित्य बिडला ग्रुप ने स्थानीय सीमेंट फैक्ट्री को किया एक्वायर

0
148


सोनभद्र (ब्यूरो) डाला बुधवार तक जय प्रकाश एसोसिएट के नाम से प्रसिद्ध स्थानीय सीमेंट फैक्ट्री गुरूवार को आदित्य बिड़ला ग्रुप अल्ट्राटेक के नाम हो गई। सीमेंट फैक्ट्री के मुख्य द्वार पर लगा जेपी ग्रुप का लोगो हटाकर गुरूवार को अल्ट्राटेक सीमेंट का लोगो लग गया। जिसको देखने के लिए मुख्य गेट पर कंपनी के कर्मियों समेत स्थानीय लोगों की भिड लगी रही। जिसको लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है ।

सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार जेपी एसोसिएट्स के सीमेंट प्लांट को अल्ट्राटेक सीमेंट कंपनी द्वारा खरीदे जाने व अधिग्रहण की कार्रवाई की प्रक्रिया लगभग पुरी हो चुकी है, अल्ट्राटेक कंपनी के कर्मचारी जेपी समूह डाला सीमेंट फैक्ट्री में आकर अपना कार्यभार ग्रहण कर चुके हैं कागजी कार्यवाही एक-दो दिन में पूरी कर लिये जाने की चर्चा है, चर्चा है कि इस माह के अंत तक अल्ट्रा टेक कंपनी पूरी तरह से जेपी सीमेंट फैक्ट्री डाला को अधिग्रहण कर लेगी |

ज्ञात हो कि अल्ट्राटेक सीमेंट जेपी एसोसिएट्स के प्लांट्स को 16,500 करोड़ रुपए में दोनो कंपनियों के बीच करार हुआ था, जेपी एसोसिएट्स के ये प्लांट्स मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, आन्ध्र प्रदेश और कर्नाटक में हैं। अधिग्रहण के बाद अल्ट्राटेक की क्षमता बढ़कर 9.07 करोड़ टन होगी | जेपी एसोसिएट्स के इन प्लांट्स की क्षमता 2.24 करोड़ टन है। इस खरीद के बाद अल्ट्राटेक सीमेंट की पहुंच सतना, ईस्ट यूपी, हिमाचल प्रदेश और तटीय आन्ध्र प्रदेश तक बढ़ जाएगी। इससे पहले कंपनी की इन क्षेत्रों में उपस्थिति नहीं थी। अधिग्रहण के बाद अल्ट्राटेक सीमेंट की क्षमता 6.83 करोड़ टन से बढ़कर 9.07 करोड़ टन हो जाएगी। जेपी ग्रुप पर है करीब 60,000 करोड़ का कर्ज है | जेपी ग्रुप कर्ज कम करने के लिए अपने एसेट बेच रहा है, जेपी ग्रुप पर करीब 60,000 करोड़ रुपए का कर्ज है। जेपी ग्रुप सीमेंट प्लांट के अलावा ग्रुप ने एक हाइड्रो पावर प्लांट भी बेचा हैं।

अल्ट्राटेक देश की सबसे बड़ी सीमेंट कंपनी है। जेपी एसोसिएट्स के सीमेंट प्लांट्स को खरीदने की दौड़ में अल्ट्राटेक के अलावा केकेआर, डालमिया सीमेंट और जेसडब्ल्यू सीमेंट भी थे। लेकिन अल्ट्राटेक सीमेंट बाजी मारने में कामयाब रहा। जेपी समूह की सीमेंट डिवीजन को अल्ट्राटेक द्वारा खरीदे जाने के बाद स्थानीय क्षेत्र डाला के लोगों में चर्चा का विषय बन गया है कि जिस प्रकार से जेपी समूह द्वारा डाला सीमेंट फैक्ट्री को लिए जाने के बाद स्थानीय लोगों के साथ रोजगार के नाम पर छल किया गया और रोजगार के मामले में स्थानीय लोगों को नजर अंदाज किया गया, जिससे स्थानीय क्षेत्र के लोगों में काफी असंतोष ब्याप्त रहा, स्थानीय क्षेत्र के लोगों ने अल्ट्राटेक कंपनी के मालिक व सीईओ से मांग किया कि अल्ट्राटेक कंपनी द्वारा स्थानीय लोगों को वरीयता के आधार पर स्थानीय युवाओं को नौकरी व रोजगार देने का उचित प्रबन्ध किया जाना चाहिये ।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY