हाल ए- शिवपुर विश्वनाथपुरी कालोनी का: भू- माफियाओं के आगे नतमस्तक है प्रशासन

0
80


वाराणसी ब्यूरो : भू -माफियाओं और अवैध कब्जेदार भले ही सूबे के मुख्यमंत्री के राडार पर हो पर इसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही है। अधिकारी से लेकर स्थानीय पुलिस तक भू- माफियाओं के विरूद्घ शिकायत के बाद भी कार्रवाही करने से बच रही है। इसकी एक बानगी शिवपुर से लगायत विश्वनाथ पुरी कालोनी में देखा जा सकता है। प्रधान मंत्री विकास योजना के तहत कालोनी गत सप्ताह पूर्व सीवर लाइन का काम शुरू हुआ। ठेकेदार ने सीवर के लिये गली की खोदाई कर दी और पाइप बिछाने का काम शुरू कर दिया, तभी गली के मोड़पर अवैध रूप रूप से कब्जा कर आलिशान मकान बनवाकर रह रहा शिव शंकर सिंह ने गली पर अपना दावेदारी पेश करते हुये काम बंद करा दिया।

मामला सिटी मजिस्ट्रेट के पास पहुंचा तो सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश स्थानीय पुलिस के साथ लेखपाल मौके पर पहुंचकर गली की नापी तो कर ली। हफ्ते बीत गये न तो सीवर का काम शुरू हुआ न ही खोदाई किये गये गली में मिट्टी ही डाला गया, तंग गली होने के कारण क्षेत्र के लोगों को अपने घरो तक की रास्ता तय करने के लिए सीवर के लिए बिछाई गयी पाइप का ही सहारा लेना पड़ रहा है। अब कालोनी के लोग परेशान है कि मानसून का महिना शुरू हो गया है। अगर बरसात शुरू हुआ तो लगभग दो दर्जन से उपर घरों के परिवारों के लिये कीचड़ और फिसलहन के बीच से ही गुजरना पड़ेगा ऐसे में गली गली हादसे का सवब भी बनेगा। जब कि शासना आदेश के तहत भू- माफियाओं और अवैध कब्जेदारों की शिकायत पर स्थानीय प्रशासन से लगायत अधिकारी मौके पर ही दोनो पक्षों से बात कर समस्यां का त्वरित निस्तारण करे। अभी गत दिनो पूर्व ही मंडलायुक्त ने अपने मातहतो को अवैध कब्जेदारों और भू- माफियाओं के विरूद्घ कार्यवाही करने का सख्त निर्देश दिया था। साथ हि यह भी निर्देश दिया था ऐसी शिकायतो को गम्भीरता से लेते हुये मौके पर मामले का निस्तारण करे। कालोनी के लोगो का कहना है कि शिकायत के दौरान सिटी मजिस्ट्रेट ने दोनो पक्षों को बुलाया था और खुद शिव शंकर सिंह ने स्वीकार किया था कि गली सर्वजनिक है। उसके बाद भी सीवर का काम अधर में लटका हुआ है। क्षेत्र के लोगो को यह समझ में नही आ रहा कि अधिकारियों के दफ्तर का चक्कर काटते काटते तो थक गये, अब किससे गुहार लगायें।

रिपोर्ट – सर्वेश कुमार यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here