आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ा नर कंकालों का तस्कर

0
51

बैरिया/बलिया : छपरा स्टेशन पर मंगलवार को खड़ी बलिया-सियालदह एक्सप्रेस में तस्कर के पास 50 नर कंकाल बरामद होने के मामले में हल्दी थाना क्षेत्र के बादिलपुर (भरखोखा) गांव के अमर डोम (45) को स्थानीय पुलिस के सहयोग से जीआरपी छपरा ने गिरफ्तार कर लिया । इस संदर्भ में स्थानीय लोगों का कहना है कि अमर लगभग 10 वर्षों से श्मशान घाटों से नर कंकाल व हडिड्यां बटोरने का काम करता था किंतु गिरफ्तारी के बाद ही लोगों को जानकारी हुई कि वह नर कंकाल एजेंटों के माध्यम से तस्करों को भेजता था। अमर डोम गंगा तट के श्मशान घाट पचरुखिया, हल्दी में शवों को मुखाग्नि देने का काम अपने परिजनों के साथ करता था। वह दुर्जनपुर, पांडेयपुर, हल्दी आदि श्मशाम घाटों से अपने सहकर्मियों के माध्यम से नर कंकाल एकत्र कराता था, जिसके एवज में कुछ पैसे उन्हें दे देता था। स्थानीय श्मशान घाटों पर पुरोहित का काम करने वाले महापात्रों का कहना है कि वह तो पहले से ही इस तरह का काम करता था किंतु हम लोगों से कहता था कि नर कंकाल व हड्डियां खाद बनाने वाले कारखानों को भेजते हैं, जिसके एवज में कुछ आर्थिक लाभ हो जाता है।

गुरुवार के दिन उसके गांव के शिवकुमार यादव, शिवकुमार पासवान, अमर चौबे आदि से बातचीत कर स्थिति की जानकारी ली तो सभी लोगों ने नर कंकाल बिक्री की बातों पर विश्वास न करते हुए आश्चर्य व्यक्त किया कि अमर ऐसा भी धंधा करता है। गुरुवार को उसके घर पर उसकी तीन पुत्रियों में मात्र एक पुत्री रिंकी मौजूद थी। जिसने पूछने पर बताया कि मुझे पता नहीं कि मेरे पिता को पुलिय क्यों उठा ले गई। स्थानीय लोगों की माने तो अमर नर कंकाल के धंधे से काफी दिनों से जुड़ा हुआ था और डीसीएम से नर कंकाल व हड्डियों को बक्सर के आसपास भेजता था। वैसे सत्यता की पता तो जांच के बाद ही खुलेगा।

इस संबंध में क्षेत्राधिकारी बैरिया उमेश कुमार यादव से इस बाबत पूछने पर उन्होंने बताया कि मामला जीआरपी छपरा का है, जीआरपी व आरपीएफ के लोग छपरा से आए थे। हल्दी पुलिस ने अमर डोम को बादिलपुर से गिरफ्तार करा दिया, जिसे लेकर वे लोग चले गए। हम सहयोग के लिए तत्पर हैं। जहां भी आरपीएफ व जीआरपी को जरूरत पड़ेगी, हम वहां सहयोग को तैयार रहेंगे। इस संदर्भ में गंगाघाटों पर सतर्कता बरती जा रही है ताकि इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो सके।

रिपोर्ट – धीरज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here