अगर राष्ट्रपति बने तो ISIS के खिलाफ होगा जंग का एलान – डोनाल्ड ट्रम्प

0
1610

donald-trump

वाशिंगटन- अमेरिका में हाल ही में राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनावों रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने एलान किया है कि अगर वे इस बार होने वाले राष्ट्रपति चुनावों में विजयी होते है तो सत्ता में आने के बाद वे सबसे पहले दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन ISIS को पूर्णतः समाप्त करने के लिए एलान-ए-जंग करेंगे |

हालाँकि ट्रम्प ने यह भी कहा है कि वे इसके लिए कभी भी ज्यादा अमेरिकी सैनिकों को ग्राउंड पर नहीं भेजेंगे | उन्होंने कहा है कि मेरे सत्ता में आने के बाद हमारे पास दुनिया का सबसे बेहतरीन ख़ुफ़िया तंत्र होगा जो कि फिलहाल नहीं है | उन्होंने यह भी कहा है कि ISIS के खिलाफ मै युद्ध में नाटो के देशों को आमंत्रित करूँगा क्योंकि नाटो देशों को अमेरिका जरुरत से ज्यादा ही मदद देता रहा है |

अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि मै दवा करता हूँ कि मेरे सत्ता में आने के बाद अमेरिका के निवासी ISIS नमक गंदगी से निजात पा लेंगे | यह सब बातें डोनाल्ड ट्रम्प ने रिपब्लिकन पार्टी के सोमवार से शुरू हुए 4 दिवसीय राष्ट्रीय सम्मलेन में कही है | इसी सम्मलेन के दौरान औपचारिक तौर पर डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित भी किया जाना है |

चुनाव पूर्व हो रहे सर्वे में हिलेरी ने ट्रम्प पर बनाई बढ़त –
चुनाव से पूर्व अमेरिकी न्यूज़ कंपनियों के द्वारा कराये जा रहे सर्वे में अमेरिका की पूर्व विदेशमंत्री हिलेरी क्लिंटन डोनाल्ड ट्रम्प से काफी आगे निकलती जा रही है | फिलहाल इस बढ़त के आधार पर यह कहा जाना मुश्किल है कि अमेरिका में आने वाले समय में ओबामा के सिंघासन को कौन संभालेगा | लेकिन आकंड़ों को देखकर ऐसा लग रहा है कि डोनाल्ड ट्रम्प का अक्सर विवादों में रहना अमेरिकी जनता को रास नहीं आ रहा है और उन्हें पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिलक्लिंटन की पत्नी और पूर्व अमेरिकी विदेशमंत्री हिलेरी क्लिंटन कुछ ज्यादा ही प्रभावी नेता लग रही है |

अगर हम सर्वे की बात करें तो एबीसी और वाशिंगटन पोस्ट के सर्वे में हिलेरी क्लिंटन डोनाल्ड ट्रम्प से 4 प्रतिशत की बढ़त बनाये हुए है | जबकि सीएनएन और ओआरसी इंटरनेशनल पोल के सर्वे की मानें तो डोनाल्ड ट्रम्प 4 फीसदी से हिलेरी से पिछड रहे है | हालाँकि यह केवल आकंडे है और सर्वे के नतीजे है इनके आधार पर यह कहना मुश्किल होगा कि अमेरिका का अगला राष्ट्रपति कौन होगा |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY