भारत और ईरान की दोस्ती से घबराया पाकिस्तान, सीमा पर बनवा रहा है सुरक्षा दीवार

0
6094

इस्लामाबाद- भारत और ईरान के बीच बढती दोस्ती और उसके एक बड़े प्रमाण तौर पर भारत का ईरान के चाबहार बंदरगाह को विकसित करने के कार्य की आधारशिला रखने के बाद पाकिस्तान की हालात पस्त हो चुकी है | पाकिस्तान ने भारत ईरान, भारत अफगानिस्तान की दोस्ती से घबराकर सीमा पर सुरक्षा दीवारों का निर्माण करने में जुट गया है |

भारत ईरान की दोस्ती से घबराकर सुरक्षा दीवार का निर्माण कर रहा है पाकिस्तान –
बता दें कि भारत और ईरान की बढती दोस्ती से घबराकर ही पाकिस्तान ने यह कदम उठाया है कि अब वह ईरान और पाकिस्तान के बीच की सीमा रेखा पर ऊँची-ऊँची दीवारें खड़ी कर के सुरक्षा गेटों का निर्माण कर रहा है | ज्ञात हो कि हाल ही में पीएम मोदी ने एक के बाद एक ईरान और अफगानिस्तान के दौरे किये थे जिनमें भारत ईरान और भारत अफगानिस्तान के बीच कई महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर हुए थे |

पाकिस्तान ने कहा घबराकर नहीं तस्करी रोकने के लिए बना रहे है दीवार-
बताते चले कि पाकिस्तान हालाँकि इस बात से इनकार कर रहा है कि वह भारत और ईरान की बढती दोस्ती को मद्देनजर रखते हुए या फिर भारत और ईरान की दोस्ती के डर से ऐसी किसी दीवार का निर्माण कर रहा है | पाकिस्तान की तरफ जारी एक बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान सीमा पर होने वाली तस्करी और अवैध मालों के इधर-उधर आने जाने पर रोक लगाने के लिए ऐसा कदम उठा रहा है |

क्या कहते है जानकार-
जानकारों का मानना है कि भारत का ईरान में बढ़ता हुआ वर्चस्व देखकर अब पाकिस्तान की नींद उड़ गयी है | पाकिस्तान को ऐसा लग रहा है कि भारत अब उसे चारों तरफ से घेरने की तैयारी कर रहा है जिसके चलते पाकिस्तान बेहद तनाव और अपने आपको दबाव में मह्शूश कर रहा है, यही कारण है कि अब पाकिस्तान अफगान और ईरान सीमा पर दीवारें बनाने का कार्य कर रहा है |

14 अगस्त तक काम पूरा हो जाने के है आसार-
यह भी बता दें कि ईरान और पाकिस्तान की सीमा पर पाकिस्तान के द्वारा बनायी जाने वाली दीवार की आधारशिला फंट्रियर कोर के कमांडर ब्रिगेडियर खालिद बेग और बलूचिस्तान के कलेक्टर (सीमा शुल्क) सईद अहमद जादून ने कल चगाई जिले ताफतान में रखी है, पाकिस्तान ने इसके लिए 1.5 करोंड रूपये की राशि आवंटित की है और पाकिस्तान को आशा है कि उसकी इस योजना को 14 अगस्त यानी की पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के दिन तक पूरा कर लिया जाएगा क्योंकि पाकिस्तान इसका उद्घाटन 14 अगस्त को ही करना चाहता है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here