मरीज की मौत के बाद हरकत में आया प्रशासन

0
134

रायबरेली (ब्यूरो)- सलोन कस्बा स्थित जनता हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हुई महिला की मौत के बाद शुक्रवार को स्वास्थ विभाग व प्रशासन की संयुक्त टीम को जांच के दौरान अस्पताल में मरीज व चिकित्सक नदारत मिले। क्षेत्र में धड़ल्ले से संचालित हो रहे अवैध नर्सिग होम में अन्य चिकित्सको के नाम रजिस्ट्रेशन कराने का मामला प्रकाश में आया है।

उच्चाधिकारियों के निर्देश पर जांच करने पहुंचे प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 पीके बैसवार व नायब तहसीलदार पवन कुमार शर्मा की सन्युक्त टीम शुक्रवार को जनता हॉस्पिटल पहुंची तो वंहा चिकित्सक के साथ मरीज भी नही मिले। अस्पताल के दो कर्मचारी सन्तोष कुमार व बाबूलाल उपस्थित मिले। जिसके बाद जांच टीम ने अस्पताल का निरीक्षण किया। जिसमे डाक्टर की मेज पर मृतका राजपती की अल्ट्रासाउंड की रिपोर्ट के साथ लगभग आधा दर्जन मरीजो के अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट मिली तथा ढेरो ग्लूकोज की बोतलों के साथ अन्य तमाम दवाइया मिली। मौजूद कर्मचारियो ने जांच टीम को बताया कि अस्पताल में डा0 मनोज कुमार, डा0 नागेन्द्र प्रसाद, डा0 अनिल व जीएनएम कुमारी रेखा, कुमारी माला शर्मा द्वारा मरीजो का इलाज किया जाता है। जांच टीम द्वारा अस्पताल के रजिस्ट्रेशन के बारे में पूछे जाने पर कर्मचारियो ने अस्पताल का रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र पर डा0 नागेन्द्र प्रसाद का रजिस्ट्रेशन नम्बर 69396 व डा0 अनिल का रजिस्ट्रेशन नम्बर 60019 अंकित था। जिसकी वैधता तिथि 2 फरवरी 2016 तथा पंजीकरण संख्या एसएलएन एनएच 2016 को जारी किया गया था।

जनता हॉस्पिटल में 13 मई 2017 को ग्राम सभा पूरे गुलाम हसन थाना ऊंचाहार निवासी शिकायतकर्ता सरिता की मां राजपती का पथरी के आपरेशन के दौरान मौत हो गयी थी।जिसके बाद सरिता ने अस्पताल के चिकित्सको के विरुद्ध मां के इलाज में की गयी लापरवाही की शिकायत तहसील व जिले के उच्चाधिकारियों से की थी।जिसके बाद सन्युक्त टीम ने मौके पर पहुंचकर अस्पताल का निरीक्षण किया।प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 पीके बैसवार ने बताया कि जनता हॉस्पिटल में जाँच के दौरान पायी गयी सामग्रियों व अहम कागजातों तथा वहां की स्थित से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जायेगा तथा उनके निर्देश पर कार्रवाई की जायेगी।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here